Interesting Facts

हैकिंग क्या हैं?

हैकिंग क्या हैं? (What is Hacking)

आज कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल, टेबलेट आदि का प्रयोग बहुत अधिक बढ़ गया हैं| इसी के साथ साथ लोग इन्टरनेट से भी दिन प्रतिदिन जुड़ते ही जा रहे हैं यह संख्या निरंतर बढती ही जा रही हैं क्योकि इन्टरनेट, कंप्यूटर, मोबाइल, लैपटॉप ये सब हमारे दैनिक जीवन के लिए बहुत ही उपयोगी हो गए हैं पर क्या आप जानते हैं की यह सब चीजे ही अब मनुष्य के लिए समस्यां भी उत्पन्न कर रही हैं| और उस समस्या का नाम हैं हैकिंग| हैकिंग के द्वारा कोई भी व्यक्ति कही भी दूर बैठकर आपके कंप्यूटर, मोबाइल, वेबसाइट, फेसबुक, ट्विटर आदि से आपका डाटा को चुरा सकता हैं, उस डाटा को डिलीट कर सकता हैं, या उसका गलत इस्तेमाल कर सकता हैं| जो व्यक्ति यह कार्य करता हैं उसे हैकर कहाँ जाता हैं|

हैकिंग से तात्पर्य उन गतिविधियों से है, जो कंप्यूटर, स्मार्टफोन, टैबलेट और यहां तक ​​कि पूरे नेटवर्क जैसे डिजिटल उपकरणों से समझौता करना चाहती हैं। आजकल हैकिंग, और हैकर्स को साइबर क्राइम का एक हिस्सा मना जाने लगा हैं | लेकिन आपको बता दे की हैकिंग अच्छी और बुरी दोनों प्रकार की होती हैं कुछ हैकिंग हमारी परमिशन से हमारे भले के लिए की जाती है जबकि कुछ हैकिंग हमसे परमिशन लिए बिना ही की जाती हैं|

हैकिंग आम तौर पर तकनीकी होती है (मालवेयर बनाने की तरह जो ड्राइव-बाय अटैक में मालवेयर जमा करता है, जिसमें यूजर इंटरेक्शन की आवश्यकता नहीं होती है)। लेकिन उपयोगकर्ता दुर्भावनापूर्ण लगाव पर क्लिक करने या व्यक्तिगत डेटा प्रदान करने के लिए उपयोगकर्ता को धोखा देने के लिए हैकर्स मनोविज्ञान का उपयोग भी कर सकते हैं। इन युक्तियों को “सोशल इंजीनियरिंग” कहा जाता है।

हैकिंग कंप्यूटर सिस्टम या नेटवर्क में कमजोरी की पहचान करती है ताकि व्यक्ति की कमजोरियों का फायदा उठाया जा सके। हैकिंग का उदाहरण: सिस्टम तक पहुंच प्राप्त करने के लिए पासवर्ड क्रैकिंग एल्गोरिदम का उपयोग करना हैं|

कंप्यूटर एक सफल व्यवसाय चलाने के लिए अनिवार्य हो गए हैं। यह अलग-थलग कंप्यूटर सिस्टम के लिए पर्याप्त नहीं है; उन्हें बाहरी व्यवसायों के साथ संचार की सुविधा के लिए नेटवर्क बनाने की आवश्यकता होती है। यह उन्हें बाहरी दुनिया और हैकिंग के लिए उजागर करता है। हैकिंग का अर्थ है कंप्यूटर का उपयोग धोखाधड़ी, गोपनीयता आक्रमण, कॉर्पोरेट / व्यक्तिगत डेटा चोरी करना आदि जैसे साइबर अपराधों के लिए हर साल कई संगठनों पर लाखों डॉलर खर्च होते हैं। व्यवसायों को ऐसे हमलों के खिलाफ खुद को बचाने की जरूरत है।

हैकिंग का इतिहास (History of hacking)

हैकिंग की शुरुआत 1960 के दशक में MIT में “हैकर” शब्द की उत्पत्ति हुई,  जहाँ अत्यंत कुशल व्यक्तियों ने FORTRAN और अन्य पुरानी भाषाओं में हार्डकोर प्रोग्रामिंग का अभ्यास किया। कुछ लोग उन्हें “नर्ड” या “गीक्स” भी कहते हैं, लेकिन ये व्यक्ति अब तक के सबसे बुद्धिमान, व्यक्तिगत और बौद्धिक रूप से उन्नत लोग थे, जो आज सच्चे हैकर हैं। 1970 के दशक में, “कैप्टन क्रंच” ने लंबी दूरी की कॉल और फोन हैकर्स के समूहों को बनाने का एक तरीका तैयार किया, जिसे बाद में “फ़्रीकर्स” कहा गया।

हैकर कौन होते हैं? (Who are the Hacker)

जो व्यक्ति हैकिंग का कार्य करता हैं उसे हैकर कहाँ जाता हैं| हैकर एक ऐसा व्यक्ति है जो एक्सेस पाने के लिए कंप्यूटर सिस्टम या नेटवर्क की कमजोरी का पता लगाता है और उसका फायदा उठाता है। कंप्यूटर सुरक्षा के ज्ञान के साथ हैकर आमतौर पर कुशल कंप्यूटर प्रोग्रामर होते हैं। हैकर्स को उनके कार्यों के इरादे के अनुसार वर्गीकृत किया जाता है। 

हैकर के प्रकार (Types of Hacker)

एथिकल हैकर या व्हाइट हैट हैकर (Ethical Hackers/ White Hat Hacker)

एक हैकर जो पहचान की गई कमजोरियों को ठीक करने की दृष्टि से सिस्टम तक पहुंच प्राप्त करता है। व्हाइटहैट हैकर कहलाते हैं| White hat hacker वह हैकर होते हैं जो व्यक्ति से इजाजत लेकर हैकिंग करते हैं या किसी कंपनी में job करते हैं या फिर किसी की मदद के लिए पूरी कानूनी तरीके से काम करते हैं इनको ethical hackers भी कहा जाता है क्योंकि यह इज़ाज़त लेकर काम करते हैं। आजकल police, CBI, Ib, जैसे सरकारी संगठनो और IT field वाली कंपनियों और बड़ी बड़ी popular Website facebook, twitter, reddit, youtube, paypal जैसी कंपनियों और यहाँ तक तक की online banking में अपनी security को मजबूत बनाने के लिए बहुत सारे बैंको को भीwhite hat hackers की बहुत जरूरत है। जहाँ अभी भी बहुत सारे hacker अच्छी सैलरी पैकेज पर काम भी कर रहे हैं।  

 

क्रैकर या ब्लैक हैट हैकर (Cracker/ Black hat Hacker)

Black hat hacker वह होते हैं जो किसी की इज़ाज़त के बगैर इन्टरनेट सुरक्षा को तोड़कर किसी व्यक्ति के कंप्यूटर, वेबसाइट, फेसबुक, ट्विटर को हैक करते हैं। इनका मकसद गलत होता और यह गलत कामों के लिए हैकिंग (Hacking) करते हैं। एक हैकर निजी लाभ के लिए कंप्यूटर सिस्टम तक अनधिकृत पहुंच प्राप्त करता है। इरादा आमतौर पर कॉर्पोरेट डेटा चोरी करना, गोपनीयता अधिकारों का उल्लंघन करना, बैंक खातों से धन हस्तांतरण करना आदि है। 

ग्रे हैट हैकर (Gray hat Hacker)

Grey hat hacker वह हैकर होते हैं जिनका मकसद गलत तो नहीं होता है लेकिन यह प्रयोग या एक्सपेरिमेंट करने के लिए किसी की चीजो को हैक करते हैं गलत मकसद न होने के कारण ये White hat hacker कहलाते हैं। लेकिन यह व्यक्ति की इज़ाज़त लिए बगैर ही डाटा को हैक करते हैं इसलिए ये Black hat hacker में भी आते हैं इसलिए इनको grey hat hacker कहा जाता है जो अच्छे भी होते हैं और बुरे भी|  

स्क्रिप्ट किडिज़:

ये वह हैकर होते है जिन्हें टेक्नोलॉजी का बहुत ज्यादा ज्ञान नहीं होता हैं लेकिन ये दुसरो के बनाये tools का use करते हुए hacking करते है| यह वह हैकर होते हैं जो पहले से बने उपकरणों का उपयोग करके कंप्यूटर सिस्टम तक पहुंच प्राप्त करता है। 

Hacktivist:

यह वह हैकर होते हैं जो सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक आदि संदेश भेजने के लिए हैकिंग का उपयोग करता है। यह आमतौर पर वेबसाइटों को हाईजैक करने और अपहृत वेबसाइट पर संदेश छोड़ने के द्वारा किया जाता है। 

Phreaker:

यह वह हैकर होते हैं जो कंप्यूटर के बजाय टेलीफोन में कमजोरियों की पहचान करता है और उनका शोषण करता है।

ये भी जरुर देखें