DOS

Files & Directories Structure in DOS

Files & Directories Structure in DOS

DOS में सभी Record Data Files के रूप में व्यवस्थित रहता हैं जैसे किसी कक्षा में सभी विद्यार्थी के नाम Student Name की File में Store करके रख सकते हैं। प्रत्येक फाइल  को पहचान के लिए एक नाम दिया जाता हैं।
फाइल डिस्क  या अन्य किसी स्टोरेज मीडियम पर स्टोर किये गए डाटा और सूचना की एक इकाई हैं। सूचना का सबसे छोटा भाग डाटा आइटम होता हैं। डाटा Item सामान्यतः वर्णमाला के अक्षर,अंक, चिन्ह होते हैं। एक file में हम अनेक प्रकार की सूचनाएं store कर सकते हैं। किसी संस्था के कर्मचारियों के नाम, जन्मतिथी, salary आदि। Computer की
Electronic File मुख्य रूप से दो प्रकार की होती हैं।


(1) Data File – Data File में सूचनाओं को Record के रूप में रखा जाता हैं। जैसे Student की File में Student के Roll No., Address इत्यदि Store करके रख सकते हैं।
(2) Program File – Program File में हम किसी Computer भाषा में लिखे निर्देषों को संग्रहित करते हैं।

Elements of File

एक Data File में बहुत सारे Record हो सकते हैं। प्रत्येक Record अनेक Field से मिलकर बना होता हैं। तथा प्रत्येक Field में Character होते हैं। इस तरह एक Computer File में तीन Character, Record व Field होते हैं। Characters वर्णमाला के अक्षर अंक तथा विषेष चिन्ह हो सकते हैं। Computer में कुल 256 प्रकार के Character हो सकते हैं। जब Computer File को एक Table के रूप में तैयार किया जाता हैं तो इसका प्रत्येक Column Field कहलाता हैं।
जैसे Student File में Name, Roll No., Data of Birth आदि सभी Fields कहलायेगे।
किसी File में Stored Information की पूरी Row एक Record कहलाती हैं अर्थात् एक Record में सभी Fields के डाटा होते हैं।

Latest update on Whatsapp




Download our Android App

Computer Hindi Notes Android App