C C++

Compilation and execution of program in C and C++

किसी भी Language में Program को Type करने के बाद उसमें लिखे गये Instruction को Computer के समझने योग्‍य बनाने के लिये उसे मशीनी Language में Convert (बदलना) होता हैं। Program को साधारण Language से मशीनी Language में बदलने की Process को Compilation कहते हैं, तथा Compilation में प्रयुक्‍त Software को Compiler कहा जाता हैं। C या C++ में Program File को CPP Extension के साथ save करने के बाद इसे Compile करना होता हैं। Compile करने के लिये Alt + F9 या Compile Menu के Sub Option Compile को Select करते हैं। Compile होने के बाद यदि Program में कोई त्रुटि होती हैं तो एक Compiling Message Box Display होता हैं। जिसमें Error की जानकारी दी जाती हैं। और यदि कोई Error नहीं होती हैं तो उसी message Box में 0 Error प्रदर्शित होती हैं।


Program Linking

Program को link करना अर्थात् Program को Executive बनाना। Alt + C से भी Link कर सकते हैं। Executable File बन जाती हैं। Program Linking में Program में प्रयोग की गयी सभीबाहरी Files को Program से जोड़ा जाता हैं। Program Link करने हेतु Compile Menu के Link Option को Select करते हैं। जिसे हम c:\> Add← से चला सकते हैं।

Execution Of Program

Program को चलाने के लिये Rum Menu के Run Option या Ctrl + F9 का Use किया जाता हैं।

उदाहरण के लिये – Program को Compile Link एवं Execute करने के Step निम्‍न हैं :-

  1. Select New From the file Menu.
  2. Type Program
  3. Save the Program
  4. Use Ctrl + F9 to Compile & Execute
  5. Use Alt + F5 to View the Output


Latest update on Whatsapp




Download our Android App

Computer Hindi Notes Android App