सी प्रोग्रामिंग

Operators in C Language

Operators in C Language

  1. ऑपरेटर एक सिंबल होता है जो Value या Variable को Operate करता है। उदाहरण के लिए: + एक ऑपरेटर है जो संख्याओ को जोड़ता है। C programming में कई built-in operators होते हैं|
  2. Operators एक या एक से अधिक variable, constants या operands के साथ मिलकर काम करते हैं| Variable, constant, operands, function और operators इन सभी को एक साथ मिला देने से एक expression बनता है|
  3. Operands और Operators को मिलाकर Expression बनता है| Operands variables ही होते हैं जो की Operators के साथ मिलकर कुछ operation perform करते हैं|

Types of Operators in C

  • Arithmetic Operators
  • Relational Operators
  • Logical Operators
  • Bitwise Operators
  • Ternary or Conditional Operators
  • Assignment Operator
  • Special Operator

Type of Operator

Symbolic representation

Arithmetic operators +, -, *, /, %
Relational operators >, <, ==, >=, <=, !=
Logical operators &&, ||, !=
Increment and decrement operator ++ and —
Assignment operator =
Bitwise operator &, |, ^, >>, <<, ~
Comma operator ,
Conditional operator ?:

Arithmetic operators

अर्थमेटिक ऑपरेटर का उपयोग mathematical operations को perform करने के लिए होता है जैसे जोड़ (+), घटाव (-), गुणा (*), विभाजन (/) और मापांक (%)

Operator Description
+ इस ऑपरेटर का उपयोग दो ऑपरेंड को जोड़ने के लिए किया जाता है
इस ऑपरेटर का उपयोग दो ऑपरेंड को घटाने के लिए किया जाता है
* इस ऑपरेटर का उपयोग दो ऑपरेंड का गुणा करने के लिए किया जाता है
/ इस ऑपरेटर का उपयोग दो ऑपरेंड को डिवाइड करने के लिए किया जाता है
% इस ऑपरेटर का उपयोग दो ऑपरेंड के मापांक विभाजन के लिए किया जाता है

Increment and Decrement Operator

Increment and Decrement ऑपरेटर दोनों ही बहुत उपयोगी ऑपरेटर होते हैं जो आमतौर पर कैलकुलेशन को कम करने के लिए उपयोग किए जाते हैं, अर्थात् ++ x और x ++ का अर्थ है x = x + 1 अर्थात X में 1 value को बढ़ाना और -x और x– का अर्थ है x = x-1 अर्थात X में 1 Value को घटाना| लेकिन ऑपरेंड के पहले या बाद में लिखे गए ++ या −− के बीच थोड़ा अंतर है। प्री-इन्क्रीमेंट में पहले 1 को ऑपरेंड में जोड़ता है और फिर रिजल्ट को बाईं ओर वेरिएबल को असाइन किया जाता है, जबकि पोस्ट-इन्क्रीमेंट पहले लेफ्ट पर वैरिएबल को वैल्यू असाइन करता है और फिर ऑपरेंड में 1 जोड़ता है।

Operator Description
++ Increment operator – एक के बाद एक पूर्णांक मान बढ़ाता है
−− Decrement operator – एक के बाद पूर्णांक मान घटाता है

 Relational operators

रिलेशनल ऑपरेटरों का उपयोग दो वैल्यू की तुलना करने के लिए किया जाता है। इसलिए इसे Comparison operator भी कहा जाता है|

Operator Description
==

इस operator को equal to operator कहा जाता है| इस operator का इस्तेमाल दो value को equal check करने के लिए किया जाता है| अगर दोनों value equal होती है तो यह true return करता है|

!=

इस operator को Not equal to operator कहा जाता है| इसका इस्तेमाल दो operands को equal नहीं होने के लिए check किया जाता है| मतलब की इस operator का इस्तेमाल दो operands के value को check करने के लिए किया जाता है अगर दोनों operands का
value equal नहीं होता है तो यह true return करता है|

> इस operator को Greater than operator कहा जाता है| इसका इस्तेमाल First operand के value को second operand के value से greater check करने के लिए किया जाता है| अगर First operand का value second operand के value से बड़ा होता है तो यह true
return करता है जैसे (5 > 2) return true
< इस operator को Less than operator कहा जाता है| इसका इस्तेमाल First operand के value को second operand के value से less than check करने के लिए किया जाता है|
अगर First operand का value second operand के value से छोटा होता है तो यह true
return करता है जैसे (3 < 4) return true
>= इस operator को Greater than equal to operator कहा जाता है| इसका इस्तेमाल First operand के value को second operand के value से greater और equal check करने के लिए किया जाता है| अगर First operand का value second operand के value से बड़ा होता है या बराबर होता है तो यह true return करता है जैसे (5 >= 5) return true
<= इस operator को Less than equal to operator कहा जाता है| इसका इस्तेमाल First operand के value को second operand के value से Less और equal check करने के लिए किया जाता है| अगर First operand का value second operand के value से छोटा होता है या बराबर होता है तो यह true return करता है जैसे (5 <= 5) return true

Logical Operators

C में तीन प्रकार के Logical operator होते है जब हमे दो कंडीशन में से किसी एक को चुनना हो तब हम Logical Operator का प्रयोग करते है| &&- and, ||- or, !- Not.

Operator Description Example
&& Logical AND (a && b) is false
|| Logical OR (a || b) is true
! Logical NOT (!a) is false

Bitwise Operator

C लैंग्वेज में बिटवाइज ऑपरेटर का प्रयोग bit लेवल के ऑपरेशन करने के लिए किया जाता है|

Operator Description
& Bitwise AND
| Bitwise OR
^ Bitwise exclusive OR
<< left shift
>> right shift

 Special Operators

C कुछ विशेष ऑपरेटरों को सपोर्ट करता है|

Operator Description
sizeof() यह operator किसी भी variable का size उसके data type के अनुसार return करता है|
& यह operator variable के address को return करता है|
* Pointer variable को denote करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है|

Subject Wise Notes

error: Content is protected !!