सी प्रोग्रामिंग सी++ प्रोग्रामिंग

Data Type in C and C++

जब भी हम किसी भी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में कोई प्रोग्राम बनाते हैं और उस प्रोग्राम में हमें कोई वैल्यू यूजर से लेकर स्टोर करनी होती है तो उसे में वेरिएबल में स्टोर करते हैं, वेरिएबल बनाने के लिए हम डाटा टाइप का प्रयोग करते हैं

Basic Data Type

Program में प्रयोग किया जाने वाला data कई प्रकार का होता हैं जैसे Numeric, Character etc. C++ में कुछ basic data type होते हैं जिन्‍हें built in (पूर्व निर्मित) data type भी कहते हैं।

Integer Type(int)

इसमें वे पूर्णांक संख्‍याये आती हैं जिनमें दशमलव का प्रयोग न किया गया हों। इसमें -32768 से +32767 तक की संख्‍याये व्‍यक्‍त की जा सकती हैं। इससे अधिक सीमा की संख्‍या के लिये  Long int का प्रयोग किया जाता हैं। सामान्‍यत: यह 2 byte memory space लेता हैं।

Floating Type (Float)

यह दशमलव चिन्‍ह युक्‍त वास्‍तविक संख्‍याओं के लिये हैं। इसकी सीमा 10-38 से 1038 तक होती हैं। यह 4 Byte Memory Space लेता हैं। यद्यपि double data type से हम 10-308 से 10308 की सीमा की संख्‍याये प्रयोग में लें सकते हैं।


Character Type (Char)

Alphanumeric data को Assign करने हेतु प्रयोग किया जाता हैं। इसमें 0 से 255 तक के Character Input करा सकते हैं। इसमें ध्‍यान देने योग्‍य बात यह हैं कि प्रयोग हेतु Data को Single quote (‘ ’) में बन्‍द करके प्रयोग किया जाता हैं। जैसे – ‘A’ या ‘2’

वेरिएबल कैसे बनाते हैं (How to define variable)

ऊपर दिए गए किसी भी डाटा का प्रयोग कर हम वेरिएबल बना सकते हैं जैसे अगर हम किसी भी छात्र का रोल नंबर स्टोर करवाना है, तो हम उसकी लिए इन्टिजर डाटा टाइप का प्रयोग कर सकते हैं, नीचे दिया गया उदाहरण देखिये

int rollno = 1001;

तो हम जब भी कोई भी वेरिएबल बनाना चाहते हैं तो पहले उसका डाटा टाइप लिखते हैं फिर वेरिएबल का नाम और फिर अगर कोई वैल्यू देना चाहते हैं तो वो|

Variable नामकरण के नियम

  1. Variable का नाम Alphabet और Digit दोनों के साथ हो सकता हैं। परन्‍तु इसका प्रथम अक्षर Digit नहीं हो सकता हैं।
  2. Variable के नाम में Space का Use नहीं किया जा सकता हैं। Space की जगह पर Underscore का Use किया जा सकता हैं।
  3. किसी भी Special Symbol का use नही किया जाता हैं।
  4. Variable की Length 247 Character तक हो सकती हैं।
  5. Variable के नाम में Key Words का Use नहीं करते हैं।

Basic Data Type int, char or float को नया रूप देकर इनकी limit और गुणों को बढ़ाया जा सकता हैं। Basic Data Type के नये रूप में प्राप्‍त Data Type Type Modifier कहलाते हैं।

Type Modifier

आवश्‍यकतानुसार Data Type को नवीनीकृत रूप प्रदान किया जा सकता हैं। integer variable compiler पर depend करता हैं यदि हमें No. – 40000 को int type के variable में store करना हैं तो int data type उपयुक्‍त नहीं हैं इसकी सीमा -32768 से +32767 तक होती हैं। अत: No. – 40000 के लिये int का नवीनीकृत रूप प्रयोग में लाया जायेगा। जो long int होता हैं। long int , int का type modifier कहा जायेगा। इसी प्रकार char के लिये unsigned char या signed char type modifier होते हैं।

Long int and Short int

हम जानते हैं कि int data type की निश्चित limit होती हैं अत: उसमें कुछ निश्चित Value ही Store की जा सकती हैं। परन्‍तु कई बार Program में Calculation के दौरान Variable के मान में इस Limit से आगे हो जाते हैं। जिससे Program में Error आ जाती हैं। int की limit compiler पर निर्भर करती हैं। compiler 16 Bit एवं 32 Bit प्रकार के होते हैं। Int data type का long int type modifier हैं।

जिसकी Limit –2147483648 से  +2147483647 होती हैं। इसे declare करने का Syntax निम्‍न हैं –

Long int  Variable_name; या Long Variable_name ;

Example :- long int num; या long num;

Long int data type memory में 4 byte space लेता हैं। इस data type के प्रयोग से program की प्रक्रिया (Process) धीमी हो जाती हैं। इसके विपरीत short int type modifier साधारण int की तरह ही use होता हैं। इसकी Memory Space 2byte होती हैं। Short int 82 bit Compiler में int से कम Space लेता हैं एवं इससे Program तेजी से Execute होगा।


Compiler Short Int Long
16 Bit Compiler 2 Byte 2 Byte 4 Byte
32 Bit Compiler 2 Byte 4 Byte 4 Byte
Signed int and unsigned int

Program में कभी-कभी int Variable के – या + sign की आवश्‍यकता होती हैं। इस Condition में हम उसे Unsigned int modifier type declare कर सकते हैं। साधारण रूप्‍ से int की limit -32768 से 32767 तक होती हैं। Unsigned int data type में value हमेशा Positive होगी। इस स्थिति में इसकी Limit 0 से 65535 तक की हो जाती हैं। unsigned int modifier decoration निम्‍न प्रकार से करते हैं –

Syntax :- Unsigned int Variable name ;

Signed int में unsigned के विपरीत Value ही जाती हैं। एवं इनके पहले Long देने पर Memory बढ़ जाती हैं।

Signed Char and Unsigned Char

Signed Char साधारण Char की तरह ही होता हैं। इसकी Range – 128 से 127 तक होती हैं। Unsigned Char की Range 0 से 255 हो जाती हैं।