Interesting Facts

पायथन का इतिहास, उपयोग और लाभ

पायथन का इतिहास, उपयोग और लाभ (History, uses and advantages of Python)

पायथन क्या हैं? (What is Python?)

पायथन PERL के समान एक interpreted, object-oriented programming language है, पायथन भाषा की स्पष्ट syntax और readability के कारण यह आज दुनिया की सबसे popular programming language बन चुकी है। पायथन को सीखना आसान है, इसी के साथ साथ पायथन पोर्टेबल भी हैं जिसका अर्थ है कि इसका प्रयोग कई ऑपरेटिंग सिस्टमों में किया जा सकता है, जिसमें UNIX- आधारित सिस्टम, मैक ओएस, एमएस-डॉस, ओएस / 2 और माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 98 के विभिन्न संस्करण शामिल हैं।

पायथन को general-purpose programming भाषा भी कहा जाता है पायथन को नीदरलैंड के पूर्व निवासी Guido van Rossum द्वारा पहली बार 1991 में बनाया गया था |पायथन वर्तमान में अपने तीसरे वर्जन में  है, जो 2008 में जारी किया गया था, हालांकि मूल रूप से 2000 में जारी किया गया दूसरा वर्जन अभी भी सामान्य उपयोग में है।

पायथन का उपयोग विभिन्न प्रकार की एप्लीकेशन के लिए किया जा सकता है। इस भाषा को पढने और समझने में आसान बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया हैं ताकि कोई भी व्यक्ति इस भाषा को आसानी से सीख सके | पायथन का सोर्स कोड स्वतंत्र रूप से उपलब्ध है जिसे पुनः उपयोग और उसमे सुधार किया जा सकता हैं|

पायथन एक interpreted language है, जिसका अर्थ है कि पायथन में लिखे गए प्रोग्राम्स को चलाने के लिए पहले से Compiled करने की आवश्यकता नहीं होती है, पाइथन भाषा modules और packages के उपयोग का समर्थन करती है| आसान शब्दों में समझे तो python program को एक modular style में design कर सकते है और इसके code को कई प्रकार के दूसरे प्रोजेक्ट में पुनः उपयोग किया जा सकता है|



पायथन डायनेमिक डेटा टाइप्स, रेडी-मेड क्लास और कई सिस्टम कॉल और लाइब्रेरी के लिए इंटरफेस प्रदान करता है। इसे C या C ++ भाषा का उपयोग करके बढ़ाया जा सकता है। पायथन को माइक्रोसॉफ्ट के Active Server Page (ASP) तकनीक में स्क्रिप्ट के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। Melbourne (ऑस्ट्रेलिया) क्रिकेट ग्राउंड के लिए स्कोरबोर्ड प्रणाली पाइथन में लिखी गई है। Z ऑब्जेक्ट पब्लिशिंग एनवायरनमेंट, एक लोकप्रिय वेब एप्लिकेशन सर्वर, जिसे पायथन भाषा में भी लिखा गया है।

पाइथन भाषा क्यों सीखनी चाहिए

1) पाइथन पूरी तरह से फ्री भाषा है, इसे डाउनलोड करने, उपयोग करने और कोड करने के लिए भुगतान नहीं करना पड़ता हैं|

2) पायथन कमांड्स आम इंग्लिश शब्द में होते है, जिससे आप इसे आसानी से सीख सकते है| यदि आपको प्रोग्रामिंग भाषाओं का थोड़ा भी ज्ञान नही है, तब भी आप पायथन कोड को आसानी से सीख सकते है|

3) यह एक object-oriented language है, जिसका फायदा आपको दूसरी programming language सीखने में होता है|

4) इसका इस्तेमाल कई प्रकार की एप्लीकेशन बनाने में किया जाता है|

5) पाइथन का उपयोग Artificial intelligence और data science में भी किया जाता है| हम सब जानते है, AI यानी कृतिम बुद्धिमत्ता तकनीकी दुनिया का भविष्य है इसलिए पायथन आपको भविष्य में बहुत उपयोगी हैं|

पायथन का इतिहास (History of Python)

जब हम पायथन के इतिहास के बारे में बात करते हैं, तो हम ABC प्रोग्रामिंग भाषा को याद जरुर करते हैं क्योंकि यह ABC प्रभाव था जिसने पायथन नामक प्रोग्रामिंग भाषा के डिजाइन और विकास का नेतृत्व किया।

1980 के दशक की शुरुआत में, वैन रोसुम CWC (Centrum voor Wiskunde en Informatica) में ABC नामक प्रोग्रामिंग भाषा के कार्यान्वयनकर्ता के रूप में काम करता था। बाद में 1980 के दशक के अंत में CWI में, AMOEBA नामक एक नई डिस्ट्रिब्यूटेड ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करते हुए, वैन रोसुम ने ABC जैसे सिंटैक्स के साथ एक स्क्रिप्टिंग भाषा की तलाश शुरू की, और फिर वान रोसुम ने खुद एक नई सरल स्क्रिप्टिंग भाषा को डिजाइन करना शुरू किया जो ABC की खामियों को दूर कर सकती थी।

वैन रोसुम ने 1980 के दशक में नई स्क्रिप्ट विकसित करना शुरू किया और आखिरकार 1991 में उस प्रोग्रामिंग भाषा का पहला संस्करण पेश किया। इस प्रारंभिक रिलीज़ में Module -3 की मॉड्यूल प्रणाली है। बाद में, इस प्रोग्रामिंग भाषा को ‘Python’ नाम दिया गया।

अक्सर लोग यह मानते हैं कि पायथन का नाम सांप के नाम पर लिखा गया था। यहां तक ​​कि पायथन प्रोग्रामिंग भाषा के लोगो में दो सांप, नीले और पीले रंग की तस्वीर को दर्शाया गया है। लेकिन, नामकरण के पीछे की कहानी कुछ अलग है।

1970 के दशक में, एक लोकप्रिय BBC कॉमेडी टीवी शो था जिसका नाम Monty Python’s Fly Circus था वैन रोसुम उस शो के बड़े प्रशंसक थे। इसलिए जब पायथन को विकसित किया गया, तो रोसुम ने इस प्रोजेक्ट का नाम ‘Python’ रखा।

पायथन का पहला संस्करण (यानी पायथन 1.0) 1991 में पेश किया गया था। इसकी स्थापना और संस्करण 1 की शुरूआत के बाद से, पायथन का विकास संस्करण 3.x (2017 तक) तक पहुंच गया है।

यहाँ संक्षिप्त चार्ट है जो पायथन प्रोग्रामिंग भाषा के विभिन्न संस्करणों की रिलीज़ की समयरेखा को दर्शाता है।

पायथन से लाभ (Advantages of Python)

  1. पायथन एक नौसिखिया डेवलपर के लिए भी सीखना आसान है। इसका कोड पढ़ना आसान है और आप इसे देखकर बहुत सी चीजें कर सकते हैं।
  2. यह कई सिस्टम्स और प्लेटफार्मों का समर्थन करता है। जिसमें UNIX- आधारित सिस्टम, मैक ओएस, एमएस-डॉस, ओएस / 2 और माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 98 के विभिन्न संस्करण शामिल हैं।
  3. पायथन एक ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग भाषा हैं|
  4. एक कार्ड के आकार के माइक्रो कंप्यूटर की शुरुआत के साथ, पायथन ने अपनी पहुंच को अभूतपूर्व ऊंचाइयों तक पहुंचाया है। डेवलपर्स अब आसानी से कैमरे, रेडियो और गेम का निर्माण कर सकते हैं। इसलिए, पायथन सीखना आपके लिए कुछ आउट-ऑफ-द-बॉक्स गैजेट बनाने के लिए नए रास्ते खोल सकता है।
  5. पाइथन में कई फ्रेमवर्क हैं जो वेब प्रोग्रामिंग को बहुत लचीला बनाते हैं। Django वेब विकास के लिए सबसे प्रसिद्ध पायथन फ्रेमवर्क है।
  6. पायथन के द्वारा Graphical user interface (GUI) बनाया जा सकता है| GUI, user interface का रूप है, जो user को command line के माध्यम से केवल text के बजाय electronic device के साथ बातचीत करने के लिए icon या अन्य visual indicators का उपयोग करता है|
  7. पाइथन पूरी तरह से embeddable है, अर्थात इसके source code में अन्य programming language के code डाले जा सकते है और अन्य भाषाओं के source code में python code डाला जा सकता है| यह हमें दूसरी भाषाओ की scripting क्षमताओं को हमारे program में एकीकृत करने की अनुमति देता है|
  8. पाइथन ओपन सोर्स भाषा है, इसका अर्थ हैं कि पायथन का सोर्स कोड पूरी दुनिया के लिए उपलब्ध है| हम इसे आसानी से download, change, use और distribute कर सकते है| इसके साथ ही python एक free language है, जिसके tools का उपयोग आप आसानी से कर सकते है|

पायथन की कमियां (Disadvantages of Python)

  1. पायथन बाकी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के मुकाबले स्लो है।
  2. पायथन मोबाइल विकास के लिए बहुत अच्छी भाषा नहीं है।
  3. पायथन से एक उच्च-ग्राफिक 3 डी गेम का निर्माण करना असंभव है।
  4. पायथन मल्टी-प्रोसेसर / मल्टी-कोर के लिए अच्छा नहीं है।
सरल शब्दों में सारांश
  1. पायथन को general-purpose programming भाषा भी कहा जाता है पायथन को नीदरलैंड के पूर्व निवासी Guido van Rossum द्वारा पहली बार 1991 में बनाया गया था|
  2. पायथन PERL के समान एक interpreted, object-oriented programming language है|
  3. पायथन एक interpreted language है, जिसका अर्थ है कि पायथन में लिखे गए प्रोग्राम्स को चलाने के लिए पहले से Compiled करने की आवश्यकता नहीं होती है|
  4. पाइथन पूरी तरह से फ्री भाषा है, इसे डाउनलोड करने, उपयोग करने और कोड करने के लिए भुगतान नहीं करना पड़ता हैं|
  5. पायथन का उपयोग विभिन्न प्रकार की एप्लीकेशन बनाने के लिए किया जा सकता है।
  6. यह कई सिस्टम्स और प्लेटफार्मों का समर्थन करता है। जिसमें UNIX- आधारित सिस्टम, मैक ओएस, एमएस-डॉस, ओएस / 2 और माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 98 के विभिन्न संस्करण शामिल हैं।

सिलेबस के अनुसार नोट्स
DCA, PGDCA, O Level, ADCA, RSCIT, Data Entry Operator
यहाँ क्लिक करें