Node JS क्या है?

Node JS एक ओपन सोर्स और क्रॉस प्लेटफार्म रनटाइम एनवायरनमेंट है जिसकी मदद से जावास्क्रिप्ट के कोड को ब्राउज़र के बाहर भी यूज़ किया जा सकता है| इसे Google Chrome के JavaScript engine (V8 engine) पे बनाया गया है | सबसे महत्वपूर्ण गौर करने वाली बात ये है के Node JS न तो कोई फ्रेमवर्क है और न तो कोई प्रोग्रामिंग लैंग्वेज| यह आप के ब्राउज़र को वो क्षमता देता है ताकि आपका ब्राउज़र JavaScript को सर्वर पर भी एक्सेक्यूट कर सके |

Node JS क्या है? (What is Node JS)

किसी भी नोड एप्लीकेशन में आमतौर पर सिर्फ एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज use होती है वह है – जावास्क्रिप्ट | मूल रूप से JavaScript ही एक ऐसी लैंग्वेज है जो Node Js सपोर्ट करता है पर market में कई सारी Compile-to-Js languages भी available हैं | इसलिए Node Js applications Coffee Script, TypeScript, Clojure Script, Dart languages का यूज़ करके भी बनायीं जा सकती हैं | Node JS की मदद से आप backend सर्विसेज जैसे API, Web App, Mobile App बना सकते हैं | कई बड़ी कंपनियां जैसे Netflix, Uber, PayPal, NASA, Node JS का इस्तेमाल करती हैं | हाल ही में LinkedIn (जो कि एक बहुत बड़ी professional सोशल नेटवर्किंग कंपनी है ) को Node Js से दोबारा बनाया गया है | ज्ञात हो की LinkedIn इसके पहले Ruby प्रोग्रामिंग लैंग्वेज पर बनी हुई थी |

Node JS को Ryan Dahl ने May 27 2009 में बनाया था | इसे C, C++ और JavaScript से बनाया गया है | Node JS को आप Linux, Mac OS, Microsoft Windows, SmartOS, FreeBSD, OpenBSD, IBM AIX Operating system में भी यूज़ कर सकते हैं |

Node JS का उपयोग विभिन्न प्रकार की applications बनाने के लिए किया जाता है | Command Line Application, Web Application, Real Time Chat Application, REST API Server |

यह भी पड़ें

Node JS का इस्तेमाल क्यों करें?

  • इसकी मदद से एक ultra fast एप्लीकेशन बना सकते है|
  • Server side एप्लीकेशन बनाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है|
  • File और Database server पर CRUD ऑपरेशन perform करना बहुत आसान है|
  • इसको सीखना भी बहुत आसान है|
  • इसकी मदद से आप अपने project को आसानी से handle कर सकते है|
  • इसमें आप अपने custom modules बना कर भी अपने project में इस्तेमाल कर सकते है|

Node Js को अपने सिस्टम में कैसे इनस्टॉल करें? (How to install Node JS)

Node JS को install करने के लिए आप Node JS को उसकी official website से डाउनलोड कर सकते हैं| Download करने के बाद आप इसे अपने सिस्टम की किसी भी ड्राइव में इनस्टॉल कर सकते हैं|

Installing Node JS using npm –

Node JS को इनस्टॉल करने का एक दूसरा तरीका भी है | इसके लिए आप npm का यूज़ कर सकते हैं | npm Node Package Manager है जिसके अंदर सारी files और modules होते हैं जिनका यूज़ ऍप्लिकेशन्स बनाने में किया जाता है| इसके लिए आप अपने सिस्टम पर command prompt ओपन कीजिये|

इसके बाद cd कमांड का यूज़ करके उस ड्राइव में जाइये जिस ड्राइव में आप node JS को इनस्टॉल करना चाहते हैं| आखिर में यह command execute कीजिये –

npm install

जब यह कमांड execute हो जाएगी आपके सिस्टम में Node JS install हो जायेगा|

Node JS की विशेषताएं (Features of Node JS)

  • Node Js में कोड एक्सेक्यूशन बहुत तेज़ होता है क्यूंकि इसे chrome V8 engine में बनाया गया है|
  • इसे MIT license के तहत रिलीज़ किया गया है
  • Node Js में सारे API asynchronous या non – blocking होते हैं | इसका मतलब ये है की node API को call करने के बाद उससे डाटा मिलने तक का इंतज़ार नहीं करता| इसे सिंगल थ्रेडेड बेहेवियर भी कहते हैं |
  • Node Js application data को buffer नहीं करता बल्कि यह data को chunks में भेजता है |

Node JS के फायदे (Advantage of Node JS)

  • Node Js को JavaScript के V8 engine पर बनाया गया है | इसलिए इसके द्वारा बनायीं गयी ऍप्लिकेशन्स काफी fast होती हैं |
  • Node Js use real time web applications आसानी से बनायीं जा सकती हैं |
  • Node Js PaaS (Platform as a Service) और Heroku जैसे hosting platforms परआसानी से deploy किया जा सकता है |
  • Node Js से आपको fast data streaming का फायदा मिलता है | यह audio या video फाइल्स को बहुत तेज़ी से stream करने में सक्षम होता है |
  • Node JS सीखना काफी आसान है | इसका कारण यह है की इसमें सिर्फ एक ही programming language यूज़ होती है – JavaScript |

कुछ Node JS Applications

  • Streaming Application
  • Real Time Collaboration tools.
  • Real time chatting app.
  • JSON API Applications.
  • Single page applications.

Hello World Program in Node JS

var http = require(‘http’);
http.createServer(function (req, res) {
res.writeHead(200, {‘Content-Type’: ‘text/html’});
res.end(‘Hello World!’);
}).listen(8080);

इस फाइल को अपने कंप्यूटर की किसी ड्राइव में एक नया फोल्डर के अंदर सेव कीजिये | याद रहे आप फाइल का नाम कुछ भी दे सकते हैं पर फाइल एक्सटेंशन आपको js ही देना पड़ेगा | उदहारण के तौर पर आप फाइल का नाम दे सकते हैं test.js |

किसी भी Node Js की फाइल को initiate करने के लिए command prompt की आवश्यकता पड़ती है| अपने सिस्टम पर Command Prompt ओपन कीजिये तथा जिस फोल्डर में आपने फाइल सेव की है उस फोल्डर पर navigate कीजिये | मान लीजिये हमने D ड्राइव में nodeproject नाम का एक नया फोल्डर बनाया है और उसमे फाइल को test.js नाम से सेव किया है |

फोल्डर में navigate करने के बाद यह कमांड दीजिये-

Node test.js

कमांड execute होने के बाद आपका कंप्यूटर एक वेब सर्वर की तरह काम करने लगेगा | अब आप ब्राउज़र ओपन कीजिये और एड्रेस बार में यह एड्रेस देकर enter कीजिये –

http://localhost:8080

एक वेब पेज ओपन होगा जिस पर Hello World! मैसेज डिस्प्ले होगा |

error: Content is protected !!