computer-evolution-history
computer-evolution-history
Computer Fundamentals

Computer Evolution history year wise (1617-1950)

आज हम जिस कम्‍प्‍यूटर को इस्‍तेमाल करते हैं वह कई दशकों और सैकड़ों वैज्ञानिकों के प्रयास का नतीजा हैं। आइए एक नजर कम्‍प्‍यूटर के विकास के इतिहास पर डालते हैं| इस पोस्ट में साल 1617 से 1950 के बारे में दिया गया है|


1617

इस वर्ष जोन नैपियर नामक वैज्ञानिक ने नेपियर बोन के नाम से लकड़ी और आईवरी की रॉड बनाई। जिसका इस्‍तेमाल calculate करने के लिए किया गया।

1642

इस वर्ष ब्‍लेज पास्‍कल नामक वैज्ञानिक ने पैस्‍वलाइन के नाम से डिजिटल एडिंग मशीन बनाई।

1822

इस वर्ष चार्ल्‍स बैबेज ने डिफरेंस इंजन के नाम से एक मशीन बनाई जिसका नाम बाद में इनालेटकल इंजन पड़ा। इसे वास्‍तविक जनरल परपज कम्‍प्‍यूटिगं  मशीन का दर्जा प्राप्‍त हुआ।

1906

इस वर्ष ली-डे-फारेस्‍ट नामक वैज्ञानिक ने वैक्‍यूम ट्यूब ट्रायोड का पेटेंट कराया और इसका इस्‍तेमाल इलैक्‍ट्रानिक स्विच के तौर पर पहले इलेक्‍ट्रॉनिक कम्‍प्‍यूटर में किया गया।

Related Post

1937

इस वर्ष जॉन वी एटनाशॉप ने एटनाशॉप वैरी नामक कम्‍प्‍यूटर का निर्माण किया। इस कम्‍प्‍यूटर को ABC के सक्षिप्‍त नाम से जाना जाता हैं। आधिकारिक तौर पर इस कम्‍प्‍यूटर को ही पहले इलेक्‍ट्रॉनिक कम्‍प्‍यूटर का दर्जा प्राप्‍त हैं।


1943

इस वर्ष ऐलन टार्निक नामक वैज्ञानिक ने एक सीक्रेट ब्रिटिश कोड को ब्रेक करने के लिए कम्‍प्‍यूटर डिजाइन किया। जिसका इस्‍तेमाल जर्मनी के द्वारा इस्‍तेमाल या भेजे जा रहे गुप्‍त संदेशों को डिकोड करने में किया गया। इस कम्‍प्‍यूटर को कोड ब्रेकिंग कम्‍प्‍यूटर का नाम दिया गया।

1945

जॉन बॉन न्‍यूमेन नामक साइंटिस्‍ट ने EDB एसी नामक कम्‍प्‍यूटर के ऊपर एक रिपोर्ट बनाई। इस रिपोर्ट में इस कम्‍प्‍यूटर का संपूर्ण खाका वास्‍तव में एक माडर्न अर्थात् आधुनिक स्‍टोरेज प्रोग्राम वाले कम्‍प्‍यूर का था।

1946

इस वर्ष ENIAC एसी नामक कम्‍प्‍यूटर का निर्माण हुआ और इस मशीन को बनाने का श्रेय मिचिली तथा जे ट्रेस नामक वैज्ञानिक को गया।

1947

इस वर्ष 23 दिसंबर को विलियम सॉकली बॉटल ब्रैटमैन और जॉन वार्डीन नामक वैज्ञानिकों ने मिलकर प्‍वाइंट से कान्‍टेक्‍ट करके बनने वाले ट्राजिंस्‍टर का सफलतापूर्वक परीक्षण किया और यहीं से सेमी कंडेक्‍टर की शुरूआत हुई।

1949

इस वर्ष EDS एसी नामक पहले व्‍यवहारिक प्रोग्राम नामक कम्‍प्‍यूटर का निर्माण हुआ। यह निर्माण कैम्‍प्रेच विश्‍वविद्यालय में मॉरी विकलेस नामक वैज्ञानिक ने किया।

1950

इस वर्ष इंजीनियरिंग रिसर्च एसोसिएट्स ऑफ मिनि एप्‍लेट्स वि‍ल्डिंग के द्वारा पहले कॉमर्शियली इस्‍तेमाल किए जा सकने वाले कम्‍प्‍यूटर का उत्‍पादन किया गया।

Related Post




Computer Hindi Notes Android App