System Analysis and Design

Cost & Benefits analysis

इस पोस्ट में हम Cost & Benefits analysis और इसके प्रकारों के बारे में जानेगे


Cost &Benefits analysis

डाटा स्टोरेज सिस्टम एनालिसिस का केवल एक अंग है | डाटा टेस्टिंग ,स्तिथि का जायजा करना ,विकल्पों पर विचार करना तथा कैंडिडेट सिस्टम निर्धारित करना अगले कदम है | प्रत्येक विकल्प की लागतो तथा लाभ से अन्यों की तुलना में किसी एक विकल्प को चयनित करने का मार्गदर्शन मिलता है |

Types of Cost &Benefits analysis

  • Tangible or Intangible Cost/Benefit
  • Direct and Indirect Cost/Benefit
  • Fixed and Variable Cost/Benefit

Tangible or Intangible Cost/Benefit

(स्पर्शनीय और अस्पर्शनीय लागत व लाभ)

Tangible किसी भी वस्तु का वह गुण है,जिसकी सहायता से उसकी कीमत तथा लाभ का आसानी से पता लगाया जा सकता है |

Example: कंप्यूटर हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर को खरीदने की कीमत,कर्मचारी का वेतन ,व्यक्तियों को दिए जाने वाले प्रशिक्षण में लगी कीमत आदि सिस्टम से संबंधित Tangible cost के उदाहरण है |

इस प्रकार की लागतो को संगठन के खातो में भी नहीं लिखा जाता है |कुछ कीमतों को पहचाना भी जा सकता है , लेकिन आर्थिक मूल्यों में उन्हें रिप्रेजेंट करना कठिन होता है | इस प्रकार की लागत को Intangible cost कहते है|


Example: नए सिस्टम में कुछ कमी के कारण  इंडस्ट्री  में संगठन की प्रतिष्ठा में कमी आदि|

Information System से मिलने लाभ को भी Tangible तथा Intangible वर्गों में बांटा जा सकता है | लागत की तरह लाभ को भी कभी –कभी आर्थिक मूल्यों में मापना कठिन होता है,जैसे प्रबंधकीय निर्णय प्रणाली प्रणाली में सुधार,ग्राहक की बढ़ती संतुष्टि आदि | इसके अतिरिक्त कुछ लाभ Tangible होते है ,जिन्हें मापा जा सकता है |

Example: Information system के विकास में डाटा प्रोसेसिंग की गति में तेजी ,डाटा प्रोसेसिंग की लगत में कमी आना आदि |

बहुत से संगठनों में ऐसा देखा गया है कि प्रबंधक Intangible cost तथा लाभों को अनदेखा कर देते है जो की पुर्णतः गलत है, क्योकि Tangible तथा Intangible Cost &Benefits की मात्रा लगभग सामान ही होती है|

Direct and Indirect Cost/Benefit

(प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष लागत व लाभ)

लागत लेखांकन के अनुसार किसी भी प्रोजेक्ट से दो तरह की लागत जुडी होती है | डायरेक्ट कास्ट वह होती है ,जिसका प्रोजेक्ट के ऑपरेशन से सीधा सम्बन्ध होता है अर्थात वे सभी खर्चे जो की सूचना सिस्टम को चलाने के लिए किये जाते जाते है , वे डायरेक्ट कास्ट की श्रेणी में आते है |


Example: कंप्यूटर स्टेशनरी की खरीद ,सीडी की कीमत ,कंप्यूटर ऑपरेटर्स का वेतन आदि|

ठीक इसी प्रकार से प्रत्यक्ष लाभ वे होते है जो की सिस्टम के ऑपरेशन से हमें सीधे प्राप्त होते है |इसके विपरीत वे लागते जो की सिस्टम के ऑपरेशन से सीधी जुडी हुई नहीं होती है, लेकिन सिस्टम को चलाए रखने के लिए खर्च की जाती है ,उसे अप्रत्यक्ष लागत कहते है|

Example: एक कंप्यूटराइज्ड इनफार्मेशन सिस्टम बनाने में इंडस्ट्री में संगठन की छवि बढ़ती है | कंप्यूटराइज्ड सिस्टम होने के कारण कम कर्मचारियों की आवश्यकता होती है

Fixed and Variable Cost/Benefit

(स्थिर तथा अस्थिर लागत व लाभ)

सिस्टम से जुडी स्थिर लागत वह होती है जो की अपरिवर्तित रहती है ,चाहे सूचना सिस्टम को कैसे भी चलाया जाए ? इसे एक समय लगने वाली कीमत भी कहते है | उदाहरण के लिए कंप्यूटर हार्डवेयर को खरीदने की लागत ,सूचना सिस्टम के प्रयोग के कारण होने वाला डेप्रिसिएशन,फर्नीचर तथा बिजली की फिटिंग में होने वाले खर्च आदि | ठीक उसी प्रकार सूचना प्रणाली से एक ही बार मिलने वाले लाभ स्थिर लाभ की श्रेणी में आते है|

Example: नए इनफार्मेशन सिस्टम से कर्मचारियों में होने वाली कमी का लाभ आदि |

अस्थिर लागत वे होती है जो बार-बार बदलती रहती है जैसे -बिजली का बिल ,मशीन के रखरखाव का खर्च आदि | इसी तरह अस्थिर लाभ भी बार-बार बदलते रहते है |

Latest update on Whatsapp




Download our Android App

Computer Hindi Notes Android App