इन्टरनेट और ई-कॉमर्स नेटवर्किंग

डाटा सेंटर की विशेषताएं

features of data center in hindi

डाटा सेंटर की विशेषताएं (Features of data center)

डाटा सेंटर एक ऐसा केंद्रित संग्रहण क्षेत्र है जो डाटा और सूचना को स्टोर करता है, उसका प्रबंधन करता है और उसका विस्तार करता है डाटा और सूचना का भंडार डाटा सेंटर (data center) अत्याधिक सुरक्षित (secure) है और इसमें दोष प्रतिरोधी (fault resistant)सुविधा है जो ग्राहक उपकरणों (equipment) की मेजबानी (hosting) करता है और दूरसंचार नेटवर्क (telecommunication network) से जुड़ता है| डाटा सेंटर की विशेषताएं निम्नलिखित है:

  1. आकार (Size) :- डाटा सेंटर की सबसे बड़ी विशेषता उनके संचालन का आकार है, आर्थिक रूप से कहा जाये तो डाटा सेंटर में कई सैकड़ों से लेकर कई हजारों सर्वर हो सकते हैं, इसके लिए 5000 से 30000 वर्ग मीटर क्षेत्र की आवश्यकता होती है| इसके अलावा डाटा सेंटर की भौतिक संरचना की बात की जाये तो डाटा सेंटर को सर्वरो के वजन का सामना करने में सक्षम होना चाहिए| इस प्रकार डाटा केन्द्रो को उच्च गुणवत्ता (high quality) वाले निर्माण की आवश्यकता है|
  2. डाटासुरक्षा (Data Security): डाटा सेंटर (data center) की एक और महत्वपूर्ण बात (critical issue) अधिकतम डाटासुरक्षा (maximum data security) और 100% उपलब्धता (availability) प्रदान करने की आवश्यकता है। डाटासेंटर (data centers) को घुसपैठियों (intruders) अर्थात बिना अधिकार प्रवेश करने वालो से, एक्सेस कंट्रोल (access control) और वीडियो सर्विलांस (सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से जानना) के माध्यम से संरक्षित किया जाना चाहिए। उन्हें प्राकृतिक आपदाओं और आपदाओं का सामना करने में सक्षम (capable) होना चाहिए जैसे कि आग (fair), बिजली की विफलता (power failure) आदि। आपदा (disaster) वाले स्थलों (places) को अच्छी तरह से बनाया जाना चाहिए।
  3. डाटा की उपलब्धता (Availability): डाटासेंटर (Data Center) का लक्ष्य (goal) डाटा की उपलब्धता (Availability)को अधिकतम (maximum) करना है और डाउनटाइम को कम करना है। ऐसा करने के लिए, कनेक्टिविटी (connectivity), विद्युत आपूर्ति (electrical supply), सुरक्षा (security)और निगरानी (surveillance), एयर कंडीशनिंग (air conditioning), आग को शांत करना (fire suppression) आदि जैसे सभी महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचों (infrastructure) के मामले में प्रबंधन (maintenance) को बनाए रखना जाना चाहिए।
  4. इलेक्ट्रिकल और पावर सिस्टम (Electrical and power system):- एक डाटासेंटर (data center)को बिना किसी बाधा (interruption) के पावर सिस्टम (यूपीएस) के साथ उच्चतम बिजली की उपलब्धता (availability) प्रदान करनी चाहिए।
  5. सुरक्षा (Security): भौतिक सुरक्षा (physical security) और सिस्टम सुरक्षा (system security) संचालन (operation) के लिए महत्वपूर्ण हैं। इस प्रकार, डाटा सेंटर में रखे उपकरणों (equipment) और डाटा की सुरक्षा (security) को सुनिश्चित करने के लिए दोनों प्रकार के सुरक्षा प्रदान करना चाहिए।
    • भौतिक सुरक्षा (Physical Security)
      • सुरक्षा गार्ड (Security Guard)
      • डोर एक्सेस के लिए प्रॉक्सिमिटी कार्ड और पिन (Proximity card and PIN)
      • बॉयोमीट्रिक्स उपकरण (Bio-metrics devices)
      • 24 x 365 सीसीटीवी निगरानी और रिकॉर्डिंग (CCTV surveillance and recording)
    • डाटा सुरक्षा (Data Security): डाटा केन्द्रो के भीतर डाटा की सुरक्षा (Data Security) को कई स्तरों पर बनाए रखा जाना चाहिए।
      • परिधि सुरक्षा (Perimeter security): यह आंतरिक और बाहरी (internal and external) दोनों खतरों का प्रबंधन (manage) करने के लिए है। इसमें फायरवॉल (firewall), घुसपैठ का पता (intrusion detection) अर्थात बिना अनुमति अंदर आने वालो का पता लगाने और सामग्री निरीक्षण (content inspections), मेजबान की सुरक्षा (host security), एंटी-वायरस (anti-virus), एक्सेस कंट्रोल (access control), प्रशासनिक उपकरण (administrative tools) आदि शामिल हैं।
      • अभिगम प्रबंधन (Access management): यह अनुप्रयोगों (application) और ऑपरेटिंग सिस्टम (operating System) दोनों के लिए है जो इन महत्वपूर्ण अनुप्रयोगों (critical applications) की मेजबानी (hosting) करते हैं।
  6. सिस्टम मॉनीटरिंग और सपोर्ट (System monitoring and support): डाटासेंटर को सिस्टम मॉनीटरिंग और सपोर्ट (System monitoring and support) देना चाहिए ताकि किसी को यह भरोसा दिलाया जा सके कि चौबीसों घंटे (24 hours) सर्वर पर नजर रखी जा रही है।
    • 24 x 7 x 365 घंटे नेटवर्क की निगरानी (24 x 7 x 365 hours network monitoring)
    • सक्रिय ग्राहक अधिसूचना (Proactive customer notification)
    • पूर्व-निर्धारित घटनाओं (pre-determined events) के लिए ग्राहकों को अधिसूचना Notification to customers for pre-determined events)
    • बिजली की आपूर्ति (Monitoring of power supply), सटीक एयर कंडीशनिंग सिस्टम (precision air conditioning system), फायर एंड स्मोक डिटेक्शन सिस्टम (fire and smoke detection systems), वॉटर डिटेक्शन सिस्टम (water detection systems), जनरेटर और निर्बाध बिजली आपूर्ति (generators and uninterruptible power supply (UPS) systems) सिस्टम की निगरानी|
    • एक डाटासेंटर को विश्व स्तरीय (world-class) माना जाएगा, यदि सुविधाएं प्रदान करने में कोई कमी न हो| कनेक्टिविटी (Connectivity), विद्युत आपूर्ति और सुरक्षा (electrical supply and security) किसी भी डाटासेंटर (Data center) की तीन सबसे महत्वपूर्ण आवश्यकताएं हैं।
  7. संग्रहण (STORAGE): सार्वजनिक डाटासेंटर (public data centers) में, डाटा का संग्रहण (data storage) कई टेराबाइट्स (terabytes) में चलता है। जैसा कि ग्राहकों की आवश्यकताओं में अंतर होता है, डाटासेंटर में आमतौर पर हाइब्रिड स्टोरेज (hybrid storage) और बैकअप इन्फ्रास्ट्रक्चर (backup infrastructure) होता है। मुख्य रूप से, डाटा सेंटर स्टोरेज को निम्न रूप से अलग किया जा सकता है:
    • प्राथमिक भंडारण (Primary storage) (SAN, NAS, DAS)
    • माध्यमिक भंडारण (Secondary storage) (tape libraries)
    • तृतीयक संग्रहण (Tertiary storage) (ऑफ़लाइन टेप संग्रहण, जैसे DAT ड्राइव और मैग्नेटो-ऑप्टिकल ड्राइव (magneto-optical drives))

अधिकांश डाटासेंटर आज हैंड-ऑफ मोड में काम करते हैं यानी कोई भी व्यक्ति डाटासेंटर में तब तक प्रवेश नहीं करता जब तक कि कोई वास्तविक जरूरत न हो। डाटा के संग्रहण को दूरस्थ सेंटर से संचालित (operate) और प्रबंधित (managed) किया जा सकता है, जो डाटा सेंटर (outside from data center) के बाहर स्थित है।

सिलेबस के अनुसार नोट्स
DCA, PGDCA, O Level, ADCA, RSCIT, Data Entry Operator
यहाँ क्लिक करें