WiMax क्या होता है?

WiMax सिस्टम में WiMax टावर और WiMax रिसीवर जैसे दो भाग शामिल हैं।

WiMax क्या होता है? (What is WiMax)

आपने WiFi के बारे में जरुर सुना होगा जिसके जरिए हम घरों पर या ऑफिस में इंटरनेट को कनेक्ट करते हैं, दिनोंदिन वाईफाई की स्पीड और उस से जुड़ने वाले डिवाइस की संख्या बढ़ती जा रही है| उसी प्रकार WiMax भी एक वायरलेस कम्युनिकेशन का एक मानक है| Wimax का पूरा नाम Worldwide Interoperability for Microwave Access होता है। जिससे मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क (MAN) को बनाने के लिए खास तैयार किया गया है यह वाईफाई के समान ही होता है लेकिन इसमें कनेक्ट होने वाले डिवाइस और इसकी रेंज वाईफाई से कहीं ज्यादा होती है|
उदाहरण के लिए एक सामान्य WiFi से 16 से 24 यूजर एक साथ कनेक्ट हो पाते हैं जबकि वाईमैक्स के जरिए हजारों लोग एक साथ कनेक्ट हो सकते हैं और वाई फाई की रेंज 1 से 2 किलोमीटर अधिकतम हो सकती है जबकि WiMax की रेंज 70 से 100 किलोमीटर भी हो सकती है|

वाईमैक्स के हिस्से (Parts of WiMax)

WiMax सिस्टम में WiMax टावर और WiMax रिसीवर जैसे दो भाग शामिल हैं।

वाईमैक्स टावर एक सेल फोन टावर के समान है और यह 3,000 वर्ग मील जैसे बहुत बड़े क्षेत्र में सिग्नल कवरेज प्रदान करता है। वाईमैक्स रिसीवर में, एंटीना और रिसीवर एक छोटा बॉक्स हो सकता है जिसे वर्तमान में वाईफाई एक्सेस जैसे लैपटॉप में बनाया जा सकता है।

How WiMax Works

वायरलेस ब्रॉडबैंड जैसी तकनीक हवा में उच्च गति के साथ एक कनेक्शन प्रदान करती है। इस तरह की तकनीक उपयोगकर्ताओं से डेटा भेजने और प्राप्त करने के लिए रेडियो सिग्नल का उपयोग करती हैं। विभिन्न वायरलेस प्रौद्योगिकियां ग्राहकों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए वाईफाई, 3 जी, यूडब्ल्यूबी और वाईमैक्स तकनीक जैसी एक साथ काम करती हैं।

वायरलेस ब्रॉडबैंड (WBA) एक पॉइंट टू मल्टीपॉइंट सिस्टम है जो सब्सक्राइबर उपकरण और बेस स्टेशन से बना होता है। बेस स्टेशन सब्सक्राइबर के साथ-साथ बेस स्टेशन के बीच भौतिक कनेक्शन के साथ काम करने के बजाय बाहरी एंटीना के माध्यम से काम करता है ताकि वॉयस से सब्सक्राइबर तक हाई-स्पीड और उपकरण के साथ डेटा ट्रांसमिट और प्राप्त किया जा सके। इसलिए, वायरलेस ब्रॉडबैंड एक्सेस वायर-लाइन ब्रॉडबैंड के लिए एक कुशल, पूरक समाधान प्रदान करता है, इसलिए इसे विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त है।

WiMax की विशेषताएं (Features of WiMax)

  1. WiMax की सबसे पहली खासियत यह है कि इसकी रेंज बहुत ज्यादा हो सकती है यह कुछ किलोमीटर से लेकर कुछ मीलों तक डाटा को ट्रांसमिट कर सकता है|
  2. WiMax में प्रयोग किए जाने वाले एंटीना बहुत ही शक्तिशाली होते हैं जिस कारण से इसकी स्पीड 40 एमबीपीएस तक हो सकती है जो कि ज्यादा दूरी के हिसाब से बहुत ज्यादा मानी जाती है|
  3. WiMax के जरिए हम कहीं भी किसी ऐसे स्थान पर भी इंटरनेट सर्विस मुहैया करा सकते हैं जहां पर केबल के माध्यम से इंटरनेट पहुंचाना मुश्किल हो सकता है|
  4. WiMax के जरिए हम एक साथ सैकड़ों हजारों उपयोगकर्ताओं को इंटरनेट की सर्विस मुहैया करा सकते हैं जिससे कभी भी कहीं भी इसका प्रयोग करके हाई इंटरनेट स्पीड सर्विस दी जा सकती है, उदाहरण के लिए जैसे अगर किसी जगह पर कोई इवेंट होना है जिसमें सभी उपयोगकर्ताओं को इंटरनेट मुहैया कराना है ऐसे में वाईमैक्स एक अच्छा विकल्प हो सकता है|
  5. WiMax भौतिक परत OFDM पर आधारित है, जो मल्टीपाथ विकृति (multipath distortion.) पर काबू पाने के लिए एक सुंदर और प्रभावी तकनीक है।
  6. WiMax समग्र सिस्टम क्षमता में सुधार के लिए कई उन्नत सिग्नल-प्रोसेसिंग तकनीकों का समर्थन करता है। इन तकनीकों में adaptive modulation और कोडिंग, spatial multiplexing, और बहुउपयोगकर्ता विविधता (multiuser diversity) शामिल हैं।
  7. WiMax में सुरक्षा के लिए मजबूत एन्क्रिप्शन पहले से ही WiMax मानक में निर्मित होते हैं।
  8. वाईमैक्स एक लचीले ऑल-आईपी-आधारित नेटवर्क आर्किटेक्चर को परिभाषित करता है जो आईपी के सभी लाभों के दोहन (exploitation) की अनुमति देता है।
error: Content is protected !!