Computer Programming Languages History

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज वास्तव में प्रोग्रामर और कंप्यूटर के बीच में कम्युनिकेशन का एक माध्यम होती है | यह एक कंप्यूटर भाषा है जो प्रोग्रामर (डेवलपर्स) द्वारा कंप्यूटर के साथ संवाद करने के लिए उपयोग की जाती है यह किसी विशिष्ट कार्य को करने के लिए किसी भी विशिष्ट भाषा (C, C ++, Java, Python) में लिखे गए निर्देशों का एक समूह है |
आइये इस लेख में हम कंप्यूटर की प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के इतिहास और डेवलपमेंट के बारे में जानेंगे |

Computer Programming Languages History

Year 𝟏𝟖𝟒𝟑

कंप्यूटर प्रोग्राम को सबसे पहले Ada Lovelace द्वारा लिखा गया एवं describe किया गया था| इसलिए उन्हें पहली कंप्यूटर प्रोग्रामर माना जाता है| 1843 में उन्होंने एनालिटिकल इंजन का उपयोग करके बर्नौली संख्याओं की गणना करने के लिए एक अल्गोरिथम (algorithm) का वर्णन किया|

Year 𝟏𝟖𝟖𝟗

होलेरिथ टेब्यूलटिंग मशीन का आविष्कार हरमन होलेरिथ ने 1889 में किया था| यह एक इलेक्ट्रोमैकेनिकल मशीन थी जिसे पंच कार्ड पर कलेक्टेड किसी डाटा या इनफार्मेशन को काउंट करने के लिये एवं उसे Tabular form में arrange करने के लिए डिज़ाइन किया गया था|
1890 में इस मशीन का उपयोग अमेरिकी जनगणना के डेटा को संसोधित करने में मदद करने के लिए किया गया था|

Year 𝟏𝟗𝟓𝟔

पहली प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज में से एक, 𝐅𝐎𝐑𝐓𝐑𝐀𝐍 को 15 अक्टूबर, 1956 को पब्लिक के लिए लॉन्च किया गया था| इसे जॉन बैकस और IBM टीम के मेम्बेर्स द्वारा विकसित किया गया था| FORTRAN का यूज फॉर्मूला ट्रांसलेशन के लिए किया जाता है|

Year 𝟏𝟗𝟓𝟖

दूसरी सबसे पुरानी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज , 𝐋𝐈𝐒𝐏 है, जिसे John McCarthy द्वारा विकसित किया गया था| 1958 में इस लैंग्वेज का पहली बार यूज किया गया| इसे डेटा के इजी manipulation के लिए डिज़ाइन किया गया था| Artificial Intelligence (AI) प्रोग्रामिंग में भी इस लैंग्वेज का यूज किया जाता है|

Year 𝟏𝟗𝟓𝟗

𝐂𝐎𝐁𝐎𝐋 (Common Business Oriented) लैंग्वेज को सबसे पहले 1959 में ग्रेस हॉपर और बॉब बेमर द्वारा डेवेलोप किया गया था| COBOL दूसरी सबसे पुरानी हाई- लेवल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसका यूज अभी भी बहुत से बिज़नेस एवं गवर्नमेंट जेसे क्षेत्रो में किया जाता है|

Year 𝟏𝟗𝟔𝟒

ओरिजिनल 𝐁𝐀𝐒𝐈𝐂 प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को जॉन केमेनी, मैरी केलर और थॉमस कर्ट्ज़ द्वारा डेवेलोप विकसित किया गया था, इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को 1 मई, 1964 में पब्लिकली लॉन्च किया गया|
यह हाई लेवल प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज का एक ग्रुप है, जिसे मुख्य रूप से स्टूडेंट्स द्वारा सिंपल कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज लिखने के लिए विकसित किया गया था|
BASIC : 𝐁eginners’ 𝐀ll-purpose 𝐒ymbolic 𝐈nstruction 𝐂ode

Year 𝟏𝟗𝟔𝟓

𝐒𝐢𝐦𝐮𝐥𝐚 पहली ओब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज थी, जिसे 1965 में नॉर्वेजियन कंप्यूटर इंजीनियर्स ओले – जोहन दहल एंड क्रिस्टन न्य्गार्द (Ole-Johan Dahl & Kristen Nygaard) द्वारा विकसित किया गया था| यह ऐल्गॉल 60 पर आधारित है, जिसे काम्प्लेक्स कंप्यूटिंग सिस्टम के लिए बनाया गया था|

Year 𝟏𝟗𝟔𝟔

  • 𝐁𝐂𝐏𝐋 (बेसिक कंबाइंड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज) को 1966 में कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के मार्टिन रिचर्ड्स द्वारा विकसित किया गया| टेक्स्ट मेसेज एवं MUD क्रिएट करने के लिए यूज होने वाली यह पहली प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है|
    हाई पोर्टेबिलिटी की वजह से यह लैंग्वेज बहुत जल्दी पोपुलर हो गई थी|
  • 1966 में मैसाचुसेट्स जनरल हॉस्पिटल में नील पप्पलारैदो ( Neil Pappalardo) द्वारा “𝐌𝐔𝐌𝐏𝐒” लैंग्वेज को विकसित किया गया| यह एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसे “𝐌” लैंग्वेज भी कहते हैं| इसे फाइनेंसियल एवं मेडिकल institutions में यूज करने के लिए डिज़ाइन किया गया था|

Year 𝟏𝟗𝟔𝟕

  • 1967 में “𝐋𝐨𝐠𝐨” लैंग्वेज को सीमोर पैपर्ट द्वारा डिज़ाइन किया गया| यह एक एजुकेशनल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जो अपनी ग्राफ़िक्स Capabilities के लिए जानी जाती है|
  • इसमें AI (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस), मैथमेटिकल लॉजिक एवं विकसित मेंटल साइकोलॉजी जैसे फीचर्स को इन्क्लुड़ (include) किया गया था|
  • “𝐋𝐨𝐠𝐨” शब्द ग्रीक भाषा से लिया गया है, जिसका मतलब होता है – “शब्द या विचार”

Year 𝟏𝟗𝟕𝟏

1971 में स्विट्जरलैंड के एक कंप्यूटर साइंटिस्ट Niklaus Wirth द्वारा “पास्कल ” लैंग्वेज को विकसित किया गया| यह एक हाई लेवल procedural प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है| इसे डेटा स्ट्रक्चर का यूज करके प्रोग्रामिंग को सरल और अच्छा बनाने के उद्देश्य से एक छोटी और सिंपल लैंग्वेज के रूप में डिज़ाइन किया गया था|
इसका नाम फ्रांसीसी, mathematician, philosopher & physicist Blaise Pascal के सम्मान में रखा गया|

Year 𝟏𝟗𝟕𝟐 – 1973

  • Dennis Ritchie एवं Brian Kernighan ने 1972 में “𝐂” लैंग्वेज को विकसित किया| यह एक प्रोग्रामिंग भाषा है, जो एक static सिस्टम के साथ स्ट्रक्चर्ड प्रोग्रामिंग, लेक्सिकल वेरिएबल स्कोप , एवं रिकर्शन (recursion) को सपोर्ट करती है| “𝐂” लैंग्वेज में लिखा गया सबसे पहला सॉफ्टवेयर , UNIX ऑपरेटिंग सिस्टम था|
  • “𝐏𝐫𝐨𝐥𝐨𝐠” प्रोग्रामिंग भाषा को 1972 में Marseilles University में Alain Colmeraur एवं उनके अन्य पार्टनर्स द्वारा डिज़ाइन किया गया था|
  • इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का यूज मुख्य रूप से 𝐀𝐈 (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) में किया जाता है|
  • अन्य प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज के विपरीत प्रोलोग में सेट्स का यूज किया जाता है जो instructions की बजाय regulations पर आधारित होती है|
  • “𝐒𝐦𝐚𝐥𝐥𝐭𝐚𝐥𝐤” दूसरी ओब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रग्रामिंग लैंग्वेज थी, जिसे 1972 में Xerox PARC में Alan Kay एवं अन्य साथियों द्वारा विकसित किया गया था|

Year 𝟏𝟗𝟕𝟒

“𝐒𝐐𝐋” एक डेटाबेस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसे 1974 में IBM में Edgar Codd द्वारा विकसित किया गया था|
SQL को SEQUEL (structured English query language ) के नाम से भी जाना जाता है| SQL का यूज डेटाबेस के साथ कम्युनिकेशन करने के लिए किया जाता है| ANSI (अमेरिकन नेशनल स्टैंडर्ड इंस्टीट्यूट) के अनुसार, यह रिलेशनल डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम के लिए स्टैण्डर्ड लैंग्वेज है|

Year 𝟏𝟗𝟕𝟓

  • 1975 में “𝐒𝐜𝐡𝐞𝐦𝐞 𝐩𝐫𝐨𝐠𝐫𝐚𝐦𝐦𝐢𝐧𝐠 𝐥𝐚𝐧𝐠𝐮𝐚𝐠𝐞” को Guy Steele एवं Gerry Sussman द्वारा MIT’s Artificial Intelligence lab. में डिज़ाइन किया गया| यह लैंग्वेज LISP का ही एक वेरिएशन थी| इसका यूज , educational & scientific organizations, एवं मुख्य रूप से AI के field में किया जाता है|
  • “𝐀𝐥𝐭𝐚𝐢𝐫 𝐁𝐀𝐒𝐈𝐂 ” प्रोग्रामिंग लैंग्वेज , बिल गेट्स, पॉल एलन और मोंटे डेविडऑफ द्वारा विकसित की गई थी| 2 जनवरी, 1975 को इसे यूजर्स के लिए अवेलेबल (available) कराया गया था| इसका उपयोग 𝐀𝐥𝐭𝐚𝐢𝐫 कंप्यूटर के लिए प्रोग्राम बनाने के लिए किया गया था|

Year 𝟏𝟗𝟕𝟗

  • सन 1979 में Bjarne Stroustrup द्वारा Bell Labs. में 𝐂++ प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को विकसित किया गया था| यह बड़े विकसित प्रोजेक्ट्स के लिए बेहतर तरीके से मैनेज करने की facilities provide करती है|
    𝐂++, widely (बड़े स्तर पर) यूज होने वाली प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज में से एक है|
  • डेटा मैनेजमेंट कंपनी Oracle ने 1979 में SQL का पहला Commercial Version लॉन्च किया|
  • वर्तमान में SQL को स्टैण्डर्ड RDBMS लैंग्वेज के फॉर्म में एक्सेप्ट किया जाता है|
  • मई 1979 में डिपार्टमेंट ऑफ़ डिफेन्स द्वारा “𝐀𝐝𝐚” प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को विकसित किया गया| इसका नाम Ada Lovelace के नाम पर रखा गया था, जिसे बाद में मूल रूप से 𝐃𝐨𝐃-𝟏 नाम दिया गया|

Year 𝟏𝟗𝟖𝟒

  • डेटाबेस एप्लीकेशन को विकसित करने के लिए यूज होने वाली प्रोग्रामिंग लैंग्वेज , “𝐅𝐨𝐱𝐏𝐫𝐨” है जिसे 1984 में 𝐅𝐨𝐱 सॉफ्टवेयर द्वारा रिलीज़ किया गया था|
  • 1970 के दशक के अंत में क्लेव मोलर द्वारा “𝐌𝐀𝐓𝐋𝐀𝐁” प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को विकसित किया गया, और इसे 1984 में MATLAB सॉफ़्टवेयर पैकेज के साथ पब्लिक के लिए रिलीज़ किया गया|

Year 𝟏𝟗𝟖𝟕

1987 में “𝐏𝐞𝐫𝐥” लैंग्वेज को रिलीज़ किया गया| यह एक ओपन सोर्स प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसे लैरी वॉल द्वारा विकसित किया गया था| इसका यूज सामान्यतः CGI scripts एवं प्रोग्रामिंग वेब ऍप्लिकेशन्स को क्रिएट करने में किया जाता है|

Year 𝟏𝟗𝟖𝟖

1980 के दशक के मध्य में Brad Cox and Tom Love द्वारा बनाई गई, “𝐎𝐛𝐣𝐞𝐜𝐭𝐢𝐯𝐞-𝐂” प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को 1988 में 𝐍𝐞𝐗𝐓 कॉर्पोरेशन द्वारा ऑफिशियली लाइसेंस provide किया गया था|

Year 𝟏𝟗𝟗𝟎

  • टिम बर्नर्स-ली ने 1990 में HTML मार्कअप लैंग्वेज को विकसित किया| HTML का उपयोग इलेक्ट्रॉनिक डॉक्यूमेंट या पेज बनाने के लिए किया जाता है, जिसमें प्रत्येक पेज को HTML में डिज़ाइन किया जाता है| इन पेजेज को हाइपरलिंक द्वारा एक दूसरे से जोड़ा जाता है और यह वर्ल्ड वाइड वेब पर डिˈस्‍प्‍ले होते हैं|
  • HTML दुनिया में सबसे Popular और widely (व्यापक रूप से) यूज की जाने वाली प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज में से एक है|
  • 1990 में General Purpose वाली प्रोग्रामिंग लैंग्वेज , “𝐇𝐚𝐬𝐤𝐞 ” को लॉन्च किया गया| इसका नाम अमेरिका के एक famous mathematician, 𝐇𝐚𝐬𝐤𝐞𝐥𝐥 𝐂𝐮𝐫𝐫𝐲 के नाम पर रखा गया था|
  • Apple के इंजीनियरों ने 1990 के दशक की शुरुआत में “𝐃𝐲𝐥𝐚𝐧” प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को विकसित किया|
  • यह static and dynamic programming दोनों को सपोर्ट करती है| Dylan को ALGOL प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के सिंटैक्स के जैसे ही डिज़ाइन किया गया था|

Year 𝟏𝟗𝟗𝟏

  • 1989 में 𝐏𝐲𝐭𝐡𝐨𝐧 लैंग्वेज को Guido van Rossum द्वारा विकसित किया गया और 1991 में पब्लिक के लिए लॉन्च किया गया था| Python एक interactive, ओब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है|
  • 𝐕𝐁 (𝐕𝐢𝐬𝐮𝐚𝐥 𝐁𝐚𝐬𝐢𝐜) एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसे माइक्रोसॉफ्ट के एलन कूपर द्वारा विकसित किया गया था|
  • इसे पहली बार मई 1991 में लॉन्च किया गया था|
  • Visual Basic को ऐसे beginner programmers को ध्यान में रखते हुए डिज़ाइन किया गया था इसके साथ-साथ visual basic ऐसे प्रोग्रामर्स के लिए भी यूस्फुल थी, जिन्हें अपने प्रोग्राम में visual एलेमेंट्स विकसित करने की जरूरत थी|

Year 𝟏𝟗𝟗𝟑

  • 𝐋𝐮𝐚 प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को 1993 में, रियो डी जनेरियो, (ब्राज़ील) की Pontifical Catholic University के इंजीनियर्स द्वारा विकसित किया गया था|
  • इस लैंग्वेज का यूज बहुत से एप्लीकेशन एवं मुख्य रूप से कंप्यूटर गेम के लिए किया जाता है|
  • ”𝐑” प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को Robert Gentleman & Ross Ihaka द्वारा बनाया गया था और 1993 में इसे लॉन्च किया गया| ”𝐑” लैंग्वेज , statistical (सांख्यिकीय) कंप्यूटिंग में यूज होने वाली लैंग्वेज है|
  • इसका यूज मुख्य रूप से क्रिटिकल एनालिसिस एवं डेटा miners द्वारा किया जाता है|

Year 𝟏𝟗𝟗𝟒

𝐂𝐒𝐒 (𝐜𝐚𝐬𝐜𝐚𝐝𝐢𝐧𝐠 𝐬𝐭𝐲𝐥𝐞 𝐬𝐡𝐞𝐞𝐭𝐬) ऐसी लैंग्वेज है, जिसका यूज Markup लैंग्वेज में लिखे गए डॉक्यूमेंट के प्रेजेंटेशन के लिए किया जाता है| इस लैंग्वेज को बनाने का कांसेप्ट सबसे पहले Håkon Wium Lie द्वारा 1994 में दिया गया| दिसंबर 1996 में W3C द्वारा CSS के लिए Specification को लॉन्च किया गया|

Year 𝟏𝟗𝟗𝟓

  • “𝐉𝐚𝐯𝐚” लैंग्वेज को James Gosling एवं Sun Microsystems के अन्य डेवलपर्स द्वारा डिज़ाइन किया गया था, और इसे पहली बार 1995 में पब्लिक के लिए रिलीज़ किया गया था| यह ओब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसका यूज बड़े स्तर पर इन्टरनेट एप्लीकेशन एवं अन्य सॉफ्टवेयर बनाने के लिए किया जाता है| वर्तमान में Java की ownership एवं maintenance 𝐎𝐫𝐚𝐜𝐥𝐞 कंपनी द्वारा किया जाता है|
  • 1995 में “𝐑𝐮𝐛𝐲” लैंग्वेज को रिलीज किया गया| यह एक ओब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसे Yukihiro Matsumoto द्वारा विकसित किया गया था|
  • इसका यूज , Web प्रोग्रामिंग के लिए किया जाता है|
  • “𝐂𝐮𝐫𝐫𝐲” लैंग्वेज को 1995 में रिलीज़ किया गया| यह एक experimental प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसे Michael Hanus, Herbert Kuchen, एवं Juan Jose Moreno-Navarro द्वारा विकसित किया गया था|
  • 1995 में मैथियास फेलिसन द्वारा “𝐑𝐚𝐜𝐤𝐞𝐭” लैंग्वेज को विकसित किया गया था| यह एक General purpose प्रोग्रामिंग भाषा है, जिसका यूज specific प्रोजेक्ट्स में custom प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज को डिज़ाइन करने के लिए किया जाता है|
  • “𝐏𝐇𝐏” लैंग्वेज को 1994 में बनाया गया था, और 8 जून 1995 में इसे रिलीज़ किया गया| यह एक scripting लैंग्वेज है, जिसे Rasmus Lerdorf द्वारा विकसित किया गया था| इसका यूज डायनामिक वेब पेज को क्रिएट करने के लिए किया जाता है, जो डेटाबेस के साथ एफ्फेक्टिवेली वर्क (effectively work) करते हैं|
  • 𝐯b𝐒𝐜𝐫𝐢𝐩𝐭 को ब्रेंडन ईच द्वारा नवंबर 1995 में विकसित किया गया था| दिसंबर 1995 में इसका नाम बदल दिया गया था, जिसका मूल या वास्तविक नाम 𝐋𝐢𝐯𝐞𝐒𝐜𝐫𝐢𝐩𝐭 है|

Year 𝟏𝟗𝟗𝟔

  • 1996 में 𝐂𝐚𝐦𝐥 प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड version, “𝐎𝐂𝐚𝐦𝐥” को रिलीज़ किया गया|
  • 𝐎𝐂𝐀𝐌𝐋 : (𝐎𝐛𝐣𝐞𝐜𝐭-𝐨𝐫𝐢𝐞𝐧𝐭𝐞𝐝 𝐂𝐚𝐭𝐞𝐠𝐨𝐫𝐢𝐜𝐚𝐥 𝐀𝐛𝐬𝐭𝐫𝐚𝐜𝐭 𝐌𝐚𝐜𝐡𝐢𝐧𝐞 𝐋𝐚𝐧𝐠𝐮𝐚𝐠𝐞)

Year 𝟏𝟗𝟗𝟖

  • 𝐗𝐌𝐋 एक मार्कअप लैंग्वेज है| इसका पूरा नाम 𝐞𝐱𝐭𝐞𝐧𝐬𝐢𝐛𝐥𝐞 𝐦𝐚𝐫𝐤𝐮𝐩 𝐥𝐚𝐧𝐠𝐮𝐚𝐠𝐞 है| XML के Specifications, W3C (World Wide Web Consortium), द्वारा विकसित किए गए, जिनकी शुरुआत 10 फरवरी, 1998 से हुई थी|
  • XML ,HTML की तरह ही है जिसमें XML द्वारा डॉक्यूमेंट को मार्कअप करने के लिए टैग का यूज किया जाता है| इससे ब्राउज़र को उस इनफार्मेशन को एक्सप्लेन करने एवं उसे डिˈस्‍प्‍ले करने की परमिशन मिलती है|

Year 𝟏𝟗𝟗𝟗

“𝐃” प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को दिसंबर 1999 में विकसित किया गया| 𝐂++ की तुलना में 𝐃 एक हाई –लेवल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है| इसका यूज बड़े लेवल पर लाइन प्रोग्राम्स को विकसित करने के लिए किया जाता है|

Year 𝟐𝟎𝟎𝟎

  • C++ और Java पर आधारित, एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज , 𝐂# को माइक्रोसॉफ्ट द्वारा विकसित किया गया एवं जून 2000 में इसे रिलीज़ किया गया|
  • C# लैंग्वेज, डेवलपर्स को विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम और इंटरनेट के लिए XML वेब सर्विसेज और माइक्रोसॉफ्ट .NET से जुड़े एप्लिकेशन बनाने में मदद करता है|

Year 𝟐𝟎𝟎𝟑

2003 में 𝐚𝐥𝐚 ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को रिलीज़ किया गया| इसका यूज छोटी scripts से लेकर डेटा प्रोसेसिंग के बड़े सिस्टम को डिज़ाइन करने के लिए किया जाता है| Java प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की कुछ कमियों को दूर करने के लिये Scala प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को बनाया गया था|

Year 𝟐𝟎𝟎𝟓

  • 𝐅# प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को Don Syme द्वारा विकसित किया गया था एवं 2005 में माइक्रोसॉफ्ट कंपनी द्वारा पब्लिकली लॉन्च किया गया|
  • F# का यूज मुख्य रूप से फंक्शनल प्रोग्रामिंग द्वारा डेस्कटॉप और मोबाइल प्लेटफ़ॉर्म पर सिंपल code का यूज करके काम्प्लेक्स प्रोब्लम्स को सोल्व करने के लिए किया जाता है|

Year 𝟐𝟎𝟎𝟕

  • प्रोग्रामिंग भाषा को Google में तीन प्रमुख डेवलपर रॉबर्ट ग्रिसेमर, रॉब पाइक और केन थॉम्पसन द्वारा 2007-2009 में विकसित किया गया था| 2009 में इसे पब्लिक के लिए लॉन्च किया गया|
  • 2007 में Rich Hickey ने 𝐂𝐥𝐨𝐣𝐮𝐫𝐞 प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को विकसित किया और 2007 में इसका first version रिलीज़ किया| यह लैंग्वेज प्रोग्रामर्स को बहुत सारे built-in tools provide करती है

Year 𝟐𝟎𝟎𝟖

  • 2008 में ” 𝐦 ” लैंग्वेज को रिलीज़ किया गया| यह एक प्रोग्रामिंग भाषा है जिसका यूज ऐसे सॉफ्टवेयर विकसित करने के लिए किया जाता है, जिनमे सिस्टम मेमोरी का यूज करते time strict limits की जरूरत होती है|
  • 2008 में 𝐑𝐞 लैंग्वेज को रिलीज़ किया गया| यह एक ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसका Syntex 𝐑𝐮𝐛𝐲 लैंग्वेज के जैसा है| इसका उपयोग डिस्ट्रिब्यूटेड कंप्यूटिंग , highly fault-tolerant programs बनाने के लिए किया जाता है|

Year 𝟐𝟎𝟏𝟎

2010 में CoffeeScript प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को ऑफिशियली रिलीज़ किया| compile होने पर इसे Java में convert किया जा सकता है| यह लैंग्वेज imperative और functional programming styles,दोनों facilities प्रोवाइड करती है| CoffeeScript के सिंटैक्स में Ruby, Haskell, एवं Python के कुछ पोपुलर एलेमेंट्स को भी include किया गया है|

Year 𝟐𝟎𝟏𝟏

Google ने ओपन सोर्स वेब-आधारित 𝐃𝐚𝐫𝐭 प्रोग्रामिंग भाषा को विकसित किया, जिसे अक्टूबर 2011 में पब्लिक के लिए रिलीज़ किया गया| इसे वेब ऍप्लिकेशन्स में JavaScript को प्राइमरी लैंग्वेज के फॉर्म में replace करने के उद्देश्य से बनाया गया था| इसका सिंटैक्स 𝐂 प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तरह है, जो ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड constructs जैसे classes and inheritance को सपोर्ट करता है|

Year 𝟐𝟎𝟏𝟐

  • जेफ बेजानसन, एलन एडेलमैन, स्टीफन कारपिंस्की और वायरल बी. शाह द्वारा “𝐉𝐮𝐥𝐢𝐚” लैंग्वेज को विकसित किया गया एवं 2012 में इसे रिलीज़ किया गया|
  • यह एक हाई –लेवल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है, जिसका यूज SCIENTIFIC कंप्यूटिंग के लिए किया जाता है|

Year 𝟐𝟎𝟏𝟒

  • “𝐁𝐚𝐛𝐞𝐥” एक General Purpose के लिए बनाई गई प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसे 2014 में विकसित किया गया था| इसका यूज Devices पर बैटरी लाइफ एवं System resources के लिए प्रोग्राम बनाने में किया जाता है|
  • Apple कंपनी द्वारा “𝐒𝐰𝐢𝐟𝐭” प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को विकसित किया गया, एवं 2 जून 2014 को इसे रिलीज़ किया गया| इसका यूज iOS, macOS, Apple Watch, एवं AppleTV etc. के लिए प्रोग्राम्स एवं एप्लीकेशन क्रिएट करने में किया जाता है|

Year 𝟐𝟎𝟏𝟓

  • 2010 में Graydon Hoare द्वारा “𝐑𝐮𝐬𝐭” प्रोग्रामिंग लैंग्वेज developing को शुरू किया गया, एवं 9 जनवरी 2015 को इसे ऑफिशियली तरीके से मोजिल्ला द्वारा version 1.0.0 alpha नाम से रिलीज़ किया गया|
  • इसका यूज इंटरनेट पर Client एवं Server के बीच कम्युनिकेशन के लिए एप्लीकेशन को डिज़ाइन करने में किया जाता है|

ये मत सोचियेगा की अब प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में विकास रुक गया है, कंप्यूटर क्षेत्र में आये दिन नए नए विकास होते जा रहे हैं जिसमे कई प्रकार की प्रोग्रामिंग लैंग्वेज भी शामिल हैं| तो कोड करते रहिये और नए नए एप्लीकेशन बनाते रहिये| धन्यवाद

error: Content is protected !!