Internet and web page designing

Difference between dial up and leased line connection

Difference between dial up and leased line connection

Dial up Connection

Leased  line Connection

साधारण टेलीफोन लाइन का प्रयोग करते हुए, निवेदन पर कनेक्‍शन प्राप्‍त होता हैं। विशेष लाइन एवं DSU रूटर की आवश्‍यकता होती हैं।
इसमें इन्टरनेट का प्रयोग करने से पहले सर्वर द्वारा दिया गया नंबर डायल करना पड़ता हैं| इसमें इन्टरनेट का प्रयोग करने से पहले कोई नंबर डायल नहीं करना पड़ता हैं|
कंप्यूटर बंद होने पर नेट कनेक्शन भी हट जाता हैं| इसमें कंप्यूटर बंद होने पर नेट कनेक्शन हटता नहीं हैं|
गति 2400 bps से 56 Kbps गति 512 Kbps से 20 Mbps
बाकी तकनीको की अपेक्षा डाटा स्‍थानांतरण की गति कम होती हैं। डाटा स्‍थानांतरण की गति अच्‍छी होती हैं।
बाकी तकनीको से सस्‍ता माध्‍यम हैं। लाइन को डालना एवं रखरखाव अधिक खर्चीला हैं।
लाइन में कार्य करते समय व्‍यवधान आ सकता हैं। डाटा स्‍थानांतरण कार्य र्निबाधित रूप से होता रहता हैं।
सामान्‍य इंटरनेट प्रयोगकर्ता इस कनेक्‍शन का प्रयोग करता हैं। इस प्रकार के कनेक्‍शन साधारण: बड़ी कंपनी या वेब सर्वर के लिए प्रयोग करती हैं।


Latest update on Whatsapp




Download our Android App

Computer Hindi Notes Android App