अंतर मल्टीमीडिया

लोसी कम्प्रेशन और लोसलेस कम्प्रेशन में अंतर

लोसी कम्प्रेशन और लोसलेस कम्प्रेशन में अंतर
(Difference between Lossy Compression and Lossless Compression)

JPEG compression के तरीकों ने दो नए कंप्यूटर ग्राफिक्स शब्दों को जन्म दिया lossless एवं lossy compression, Lossless compression एक ऐसी तकनीक है जिसमें किसी भी वास्तविक डाटा को नष्ट नहीं होने दिया जाता है और इमेजेस जो कंप्लेंट की गई हैं उन्हें फिर से रिस्टोर किया जा सकता है जबकि ĺossy compression में वास्तव में फाइल को कंप्रेस करते समय कुछ वास्तविक डाटा को खो दिया जाता है| JPEG में Lossless एवं lossy दोनों तरह के compression की छमता होती है और जो compression प्राप्त किया जाता है वह नाटकीय हो सकता है lossy JPEG फाइल्स अक्सर वास्तविक फाइल साइज से 5% कम होती है|

वह image जो lossy तरीके की मदद से कंप्रेसर की जाती है lossless तरीके से कंप्रेस की गई image की अपेक्षा अधिक खराब दिखती हैं हमारी आंखें ब्राइटनेस या इंटेंसिटी में अचानक आने वाली परिवर्तनों के प्रति अधिक संवेदनशील होती हैं और hue एवं tone में होने वाले परिवर्तनों के प्रति कम संवेदनशील होते हैं| हमारी आंखें पिक्सेल के रंगों के बीच के सूक्ष्म अंतर को देख नहीं पाती हैं अतः कुछ image हमें वैसी ही नजर आती हैं जैसे वह पहले थी|

S.No

Loss Compression

Lossless Compression

1 इस तकनीक में image compression के बाद कुछ नुकसान की जानकारी शामिल है। जबकि इस तकनीक में image compression के बाद कोई नुकसान शामिल नहीं है।
2 इस तकनीक का उपयोग करके compress किया गया data ठीक से पुनर्प्राप्त और पुनर्निर्माण नहीं किया जा सकता है| जबकि इस तकनीक से compress किये गए data को मूल डेटा से पुनर्प्राप्त किया जा सकता है।
3 यह एप्लिकेशन के लिए उपयोग किया जाता है जो मूल और पुनर्निर्मित डेटा के बीच अंतर सहन कर सकता है| यह आवेदन के लिए प्रयोग किया जाता हैं जो मूल और पुनर्निर्मित डेटा के बीच कोई अंतर बर्दाश्त नहीं कर सकता है।
4 sound और image compression के लिए lossy compression का उपयोग किया जाता है। जबकि Text compression के लिए lossless compression का उपयोग किया जाता है|
5 इस चैनल में अधिक डेटा समायोजित किया जा सकता है। इस चैनल में कम डेटा को समायोजित किया जा सकता है।
6 इसके उदाहरण हैं (I) Telephone system (ii) Video CD इसके उदाहरण हैं (i) Fax machine (ii) Radio logical image
7 इसकी application हैं – JPEG, GUI, MP3, MP4, OGG, H-264, MKV, etc. इसकी application हैं – RAW, BMP, PNG, WAV, FLAC, ALAC etc.

Subject Wise Notes

error: Content is protected !!