MS Word

Edit Menu in MS Word

Edit Menu in MS Word

यह मेन्यु बार का दूसरा मेन्यु होता हैं जिसमें Editing से सम्बंधित ऑप्शन होते हैं इसे ओपन करने की शॉर्टकट की Alt+E होती हैं |


Undo :- इस ऑप्शन का यूज यूजर द्वारा किये गए कार्य किये को निरस्त करने के लिए किया जाता है। इसकी shortcut key Ctrl+Z होती है।

Redo :- इस ऑप्शन का यूज यूजर द्वारा निरस्त किये गए कार्य को पुनः वापिस लाने के लिए किया जाता हैं इसकी Shortcut Key Ctrl+Y होती है।

Cut :- इस ऑप्शन का यूज सिलेक्ट किये गये मैटर को कट करने के लिए किया जाता है। कट करने पर सिलेक्ट मेटर वहाँ से हट जाता है, और यह डॉक्यूमेंट से कट होकर क्लिपबोर्ड में चला जाता है। और जब हम Paste करते हैं तो वह डॉक्यूमेंट में आ जाता है। इसकी Shortcut Key Ctrl+X होती हैं|


Copy :- इस ऑप्शन का यूज सिलेक्ट किये गये मैटर को कॉपी करने के लिए किया जाता है। यह भी कॉपी होकर क्लिपबोर्ड में चला जाता है। और Paste करने पर डॉक्यूमेंट में Copy हो जाता है। इसकी Shortcut Key Ctrl+C होती हैं|

Office Clipboard:- इस आप्शन का उपयोग office Clip board pane खोलने के लिए करते हैं। जिसमे cut, copy किया गया टेक्स्ट अस्थाई रूप से स्टोर हो जाता हैं और इसे आप पेस्ट कर सकते हैं |

Paste :- इस ऑप्शन की सहायता से कट या कॉपी किये गये मैटर को पेस्ट किया जाता है। इसकी Shortcut Key Ctrl+V होती है।

Paste Special :- इस ऑप्शन की सहायता से कट या कॉपी किये गये मैटर को स्पेशल पेस्ट करने के लिए किया जाता है। इसमे एक डायलॉग बॉक्स आता है। जिससे विभिन्न प्रकार के पेस्ट ऑप्शन होते हैं यह एक बहुत ही उपयोगी टूल होता है। इसका प्रयोग इंटरनेट या अन्य डॉक्यूमेंट से कट या कॉपी किये गये मेटर को पेस्ट करने के लिये किया जाता है।


Paste as Hyperlink:- इस option के द्वारा दो फ़ाइल को लिंक करते हैं। ऐसा करने के लिए सबसे पहले जिस फ़ाइल को link करना है। उसके लेख में से किसी ऐसे अक्षर को select करके कॉपी करें जिससे पहचान सकें कि यह किस फ़ाइल का लेख है। इसके बाद जिस फ़ाइल से लिंक करना है। उस फ़ाइल को खोलकर जिस जगह उस अक्षर को लाना है। उस जगह cursor रख कर इस आप्शन पर click करें। कॉपी किया हुआ अक्षर उस जगह आजायेगा। अब जब भी उस अक्षर पर cursor ले जायेंगे कर्सर हाथ के रूप में बदल जायेगा। इस अक्षर पर क्लिक करते ही लिंक की हुई फ़ाइल खुल जायेगी।
नोट-जिस फ़ाइल को लिंक करना है उस फ़ाइल का save होना आवश्यक है। और जिस फ़ाइल के लेख में से शब्द की कॉपी कर रहे हैं। उस फ़ाइल का save  होना आवश्यक है।

Clear :- इससे हम टेक्स्ट या उसकी Formatting को डिलीट कर सकते है। इसकी Shortcut Key del होती है। इसमें पहले मैटर को सिलेक्ट करना पडता है।
इसके अंतर्गत दो option हैं।

1. Formats :- इसके द्वारा सिर्फ Text या object में किये गए बदलाव को ख़त्म कर सकते हैं।
2. Contents :- इसके द्वारा सिर्फ Text या object को ही मिटा सकते हैं।

Select all :- इस ऑप्शन का यूज डॉक्यूमेंट के पूरे मैटर को एक साथ सिलेक्ट करने के लिए किया जाता है। इसकी Shortcut Key Ctrl+A होती है।

Find :- इस ऑप्शन का यूज डॉक्यूमेंट में किसी भी टेक्स्ट, शब्द एवं वाक्य को Find करने क लिए किया जाता है। इसकी shortcut key Ctrl+F है। more option में विभिन्न प्रकार से Searching कर सकते है जैसे Match Case, use Wild card , Find Whole word only , sound link etc.

Replace :- इस ऑप्शन का यूज डॉक्यूमेंट में किसी भी टेक्स्ट, शब्द एवं वाक्य को Replace करने के लिए किया जाता है। इसकी shortcut key ctrl+H है। more option में विभिन्न प्रकार के ऑप्शन सिलेक्ट कर सकते है।

इसमें चार बटन होते है।
Replace Button:- इससे एक एक शब्द Replace होता है।
Replace all Button:- इससे एक साथ पूरे डॉक्यूमेंट में Replace होता है।
Find Next Button:- इससे किसी को word को find कर सकते है।
Find What text box:- इसमे उस शब्द को लिखते जिसको replace करना होता है।
Replace With:-. इसमे जिससे replace करना होता है। उसको लिखना होता है।

Go to :- इस ऑप्शन का यूज डॉक्यूमेंट मे किसी भी विशेष page, line पर जाने के लिए किया जाता है। इसकी Shortcut key Ctrl+G है।

Link:- इस option का उपयोग Document में उपस्थित linked object को Update करने के लिए करते हैं।
सबसे पहले Insert menu में object option पर click करें निम्नलिखित dialog box आएगा।
इसमें create from file के tab button पर click करके Browse के द्वारा उस फ़ाइल का चयन करें जिसे लाना है। इसके बाद link to file के check box को चालू करके ok करदें।  linked file आप के document में आ जायेगी। अब इसमें किसी भी तरह का बदलाव करने के लिए edit menu में link option पर क्लिक करें। इसमें निम्न ऑप्शन दिखाई देंगे |
Update Now:- इसका उपयोग उस समय करते हैं। जब हम linked file की असल में किये गए बदलाव को इस इस फ़ाइल में लाना चाहते हैं।
Open Source:- इसका उपयोग उस प्रोग्राम को खोलने के लिए करते हैं। जिस प्रोग्राम की यह  linked file है।
Change source:- इसका उपयोग linked file की जगह दूसरी फ़ाइल लाने के लिए करते हैं।
Break Line:- इसका उपयोग linked file के link को ख़त्म किये बिना update को बंद करना चाहते है। तो locked के check box पर click करें।
Object:- किसी दूसरे प्रोग्राम से लाये गए object में परिवर्तन करने के लिए इस option का उपयोग करते हैं।
तरीका- इसको चलाने के लिए insert menu में object आप्शन पर click करें। एक Dialog box खुलेगा जहाँ object Type के बॉक्स में किसी भी प्रोग्राम का selection करें। उदाहरण के लिए – Corel Draw फिर Ok करते ही यह प्रोग्राम खुल जायेगा। यहाँ कोई ऑब्जेक्ट बनाकर जैसे प्रोग्रम बंद करेंगे एस करते ही यह object खुली हुई फ़ाइल में पहुँच जायेगा। अब इस object में किसी भी प्रकार का परिवर्तन करने के लिए इस object option का उपयोग करें। इसके अंतर्गत दो option हैं।
(1) edit इस option पर क्लिक करके लाये गए object में परिवर्तन कर सकते हैं।
(2) Convert यह सिर्फ उस प्रोग्राम का नाम दिखायेगा जहाँ से ऑब्जेक्ट लाया गया है।

Latest update on Whatsapp




Download our Android App

Computer Hindi Notes Android App