Internet and web page designing

Versions of HTML (HTML के संस्करण)

HTML (Hyper Text Markup Language) इसमें hypertext का अर्थ सामान्य टेक्स्ट को अतिरिक्त features से प्रदर्शित करना होता है, और मार्कअप का अर्थ सामान्य टेक्स्ट पर प्रोसेस कर उसे अतिरिक्त ऑब्जेक्ट या लिंक से जोड़ना है | HTML एक high level language हैं जिसका प्रयोग Static Website बनाने के लिए किया जाता हैं html में उचित डाटा आदान प्रदान के लिए स्वयं के Syntax या नियम होते है |


Versions of HTML (HTML के संस्करण)

HTML के विभिन्न संस्करण उपलब्ध है :-

  • html:- html के पहले version को सिर्फ html ही कहा जाता है, इसे html 1.0 नहीं कहते है |
  • html +:- Dev Regrat ने 1993 में कार्य कर अवं उसमे सुधार कर html + विकसित किया |
  • html 2.0 :- वर्तमान में उपलब्ध सभी ब्राउज़र इस संस्करण का समर्थन करते है| यह संस्करण 1994 में आया |
  • html 3.0:- यह संस्करण 1995 में बनाया गया था | इस संस्करण में पुराने संस्करण की आपेक्षा अधिक विकल्प दिए गए है जिससे टेबल, गणितीय फंक्शन आदि में काम करने में सहयता मिलती है |
  • HTML 3.2 :- यह 1997 में बनायीं गयी थी | इसमें बहुत से सहायक टूल थे | internet 3.0, Netscape 3.0 इस संस्करण से अच्छे से कार्य करते थे |
  • HTML 4.0 :- इसमें हजारो character अलग अलग यूज कर सकते है, जिन्हें यूनिकोड कहा जाता है | इस version में डायनामिक html और स्क्रिप्टिंग का उपयोग कर प्रभावशाली तरीके से वेब पेज को बनाया जा सकता है |
  • HTML 5.0 :- यह HTML का नया वर्जन है और इसे 28 अक्तुबर 2014 को विकशित किया गया है| इसमें मल्टीमीडिया support के लिए कुछ नए टैग प्रदान किये गए है।

Latest update on Whatsapp




Download our Android App

Computer Hindi Notes Android App