Interesting Facts

दुनिया की पहली हार्डडिस्क

बहुत समय पहले की बात है जब 5 एम बी की कंप्यूटर हार्ड डिस्क के लिए आपको लगभग 50000 रुपये खर्च करने होते थे, अब आप ये समझ लीजिये की आज 5 एम बी में सिर्फ आपकी सेल्फी ही स्टोर कर सकते हैं, और आज के समय में 4TB की हार्डडिस्क की कीमत लगभग 10000 रुपये है| अगर मुद्रास्फीति दर को भी ध्यान में रखें तो भी आप देख सकते हैं की हार्डडिस्क की क्षमता में 200 गुना तक बढ़ोत्तरी हुई है वहीँ कीमत में लगभग 200 प्रतिशत की कमी दर्ज की गयी है|

हार्ड ड्राइव का इतिहास न केवल तकनीकी विकास की एक आकर्षक कहानी है बल्कि यह सुचना के इस युग के लिए भी जिम्मेदार है| हम डाटा संचालित समाज में रहते हैं और कंप्यूटर, मोबाइल और डाटा सेंटर में उपलब्ध उच्च क्षमता वाली हार्ड ड्राइव के बिना यह संभव नहीं हो पता|

जब आईबीएम ने 13 सितंबर 1956 को पहली हार्ड ड्राइव का उत्पादन किया, तो कुछ लोगों ने इस बात की कल्पना की थी कि इसका असर हमारे दैनिक जीवन पर 50 से अधिक वर्षों तक रहेगा। IBM ने 305 RAMAC नाम का सुपर कंप्यूटर लॉन्च किया था, जिसमे जो हार्ड डिस्क ड्राइव (एचडीडी) लगी थी उसका वजन एक टन से अधिक और उसमे सिर्फ 5 एमबी डेटा संग्रहित किया जा सकता था|


उस समय इस हार्ड डिस्क की कीमत लगभग 60000 रुपये थी अर्थात रूपए 12000 प्रति एम बी ये इतना ज्यादा था की केवल अमेरिका की सेना और कुछ अमीर निजी बिज़नस ही RAMAC 350 को अपने प्रयोग में ले पाए| इसका प्राथमिक उपयोग वास्तविक समय लेखांकन था

पहले IBM ने नहीं सोचा था की किसी को शयद 5 एमबी से अधिक हार्डडिस्क क्षमता की आवश्यकता पड़ेगी, पर 1960 के दशक में IB 1301 मेनफ़्रेम कंप्यूटर लांच किया जिसमे हटाने योग्य प्लेटर्स पेश किए।

1963 में लॉन्च किया गया आईबीएम 1311, इसमें छह डिस्क हो सकती थी, प्रत्येक डिस्क 2.6 एमबी डेटा संग्रहित करने में सक्षम थी| स्टोरेज डिस्क का आकार 24 इंच से 14 इंच तक भी कम हो गया था। इस समय तक मेनफ्रेम कंप्यूटर की कीमत भी बहुत कम हो गई थी।

आईबीएम ने ही 1980 में पहली 1 जीबी एचडीडी की शुरुआत की। हालांकि, $ 44,000 की लागत से, औसत उपभोक्ता के घर में जाने का बिल्कुल मूल्य नहीं था। तथ्य यह है कि यह 500 पाउंड वजन था एक और बड़ी समस्या प्रस्तुत की।

1978 में निर्मित कंपनी Seagate ने 1980 में पहली 5.25 इंच एचडीडी की शुरुआत जिसने वास्तव में हार्ड डिस्क के क्षेत्र को अचानक से बदल दिया, ST 506 हार्ड डिस्क की डाटा स्टोरेज क्षमता 1 जीबी थी।

 

जबकि कई अन्य निर्माताओं ने अपने एसटी 506 के सामान एचडीडी लॉन्च किए, पर वह Seagate कंपनी ही थी जो आईबीएम की बढ़ती “आईबीएम पर्सनल कंप्यूटर” लाइन के लिए एक प्रमुख आपूर्तिकर्ता बन गया, जिसे 1981 में लॉन्च किया गया था और जहां से “पीसी” शब्द की उत्पत्ति हुई थी। 1984 में आईबीएम पर्सनल कंप्यूटर AT के आने के बाद, हार्ड ड्राइव सभी पीसी के साथ आने वाला एक मानक बन गया था।

हार्ड ड्राइव के विकास में Rondime कंपनी भी जिम्मेदार है जिन्होंने 1983 में पहली 3.5-इंच एचडीडी विकसित की थी। हालाकि यह कंपनी लम्बे समय तक इंडस्ट्री में नहीं रह पाई| फिर 1988 में Prairie Tek कंपनी ने पहली 2.5-इंच एचडीडी वाली हार्डडिस्क बनाई। आज, अधिकांश डेस्कटॉप कंप्यूटर में 3.5-इंच एचडीडी का उपयोग किया जाता है, जबकि लैपटॉप में छोटे 2.5-इंच आकार का उपयोग किया जाता है।

ये भी जरुर देखें