नेटवर्किंग

कंप्यूटर नेटवर्क में प्रयोग होने वाली डाटा प्रसारण तकनीके

switching techniques used in computer network

सर्किट स्विचिंग (Circuit Switching)

सर्किट स्विचिंग डाटा संचार का सबसे सरल तरीका है, लैंडलाइन टेलीफोन नेटवर्क इस विधि का उपयोग दो ग्राहकों (two subscribers) के बीच सम्बन्ध स्थापित करने के लिए करता है| सर्किट स्विचिंग दो उपकरणों(devices) के बीच एक ऐसा सम्बन्ध (physical connection) स्थापित करता है जो उन दोनों उपकरणों (devices) के बीच तबतक खुला रहता है, जब तक की सेशन (communication) का अंत ना हो जाये| किसी भी समय केवल दो संचार उपकरण (communication devices) एक दूसरे को सूचना प्रसारित (information share) कर सकते है, ये उपकरण (devices) या तो दो टेलीफोन हो सकते या दो कंप्यूटर हो सकते है|

circuit-switched-network-diagram

एक बार दो स्टशनो के बीच एक सर्किट स्थापित होने के बाद,यह सर्किट विशेष रूप से उन दो पार्टियों द्वारा उपयोग किया जाता है और जब तक उन दोनों पार्टीयो (those two station) के मध्य संपर्क (call) समाप्त नहीं हो जाता तब तक वह लिंक (dedicated link) किसी दूसरी पार्टी (other stations) के लिए उपलब्ध नहीं होती| टेलीफोन पर बात करते समय हम अक्सर अनुभव करते है कि यतो हमारा call जिससे हम बात (कम्यूनिकेट) करना चाहते है, उसी से कनेक्ट होता है या हमे व्यस्त सिग्नल (busy signal) प्राप्त होते है call के शुरू होने से समाप्त होने तक एक एकल सर्किट लाइन (single circuit line) का उपयोग किया जाता है|

मैसेज  स्विचिंग (Message Switching)

Message Switching एक ऐसी प्रणाली है जो  पाठ्य सूचनाओं (text information) को प्रसारित (transmit)करने, प्राप्त (receive) करने, संग्रहित (store) करने और पुनः प्राप्त (retrieve) करने के लिए कंप्यूटर तकनीकों उपयोग करती है, एक सन्देश सूचना (information) की तार्किक इकाई (logical unit) है और किसी भी आकार (length) की हो सकती है| इस प्रक्रिया में यदि एक स्टेशन (station) सन्देश (message) को किसी दुसरे स्टेशन (station) तक भेजना चाहता है तो उस सन्देश (message) के साथ गंतव्य (destination) का पता (address) जोड़ (attach) कर दिया जाता है और फिर मध्यस्थ नोड्स (intermediate nodes) की सहायता से गंतव्य (destination) तक पंहुचा दिया जाता है|

मध्यस्थ नोड(intermediate nodes) सन्देश प्राप्त करता है, इसे अस्थाई रूप (temporary) संग्रहित (store) करता है, त्रुटिओ के लिए निरिक्षण (Error inspection) करता है, और चैनल की उपलब्धता के आधार पर सन्देश (message) को अगले नोड (node) तक पहुँचाता है यह प्रक्रिया तब तक चलती है, जब तक सन्देश अपने मंजिल (Destination) तक नहीं पहुँच जाता| भारी मात्रा में डाटा ट्रांसमिशन वाले संगठन इस पद्धति का उपयोग करते है| इस पद्धति में काफी समय लगता है| मैसेज को भेजने (transmit) के लिए जवतक उचित सर्किट उपलब्ध (available) नहीं होता, तब तक सन्देश (message) को बफर (memory) में संग्रहित (store) किया जाता है| मैसेज स्विचिंग में किन्ही दो स्टेशनो की बीच एक समर्पित पथ (dedicated path) की जरूरत नहीं होती| उदाहरण टेलीग्राम, इलेक्ट्रॉनिक मेल (e-mail), कंप्यूटर फाइल्स, लेनदेन प्रश्न और उनका उत्तर (transaction queries and responses) आदि|

पैकेट स्विचिंग (Packet Switching)

यह नेटवर्क की संचरण क्षमता (transmission capacity) को अधिकतम करने की एक व्यापक (sophisticated) तकनीक (technique) है इसमें सन्देश (message) को भेजे जाने योग्य एक निश्चित आकर की इकाइयों (units) जिसे पैकेट (packet) कहा जाता है मे बांटा जाता है| चैनल की उपलब्धता के आधार पर इन पैकेटों को नेटवर्क माध्यम से अलग अलग मार्गो पर रूट (route) किया जाता है|

packet-switched-network-diagram

प्रत्येक पैकेट में भेजे जाने वाले (source) और प्राप्त करने वाले (receiver) का पता, त्रुटि सुधार (error correction), बिट्स को नियंत्रित करना (bit control) होता है| सभी पैकेट (packet) भेजने वाले (source) और प्राप्त करने वाले (receiver) के पते (address) के आधार पर रूट होते है या अपना सफर करते है| पासवर्ड सभी प्रकार के डाटा पैकेट के भीतर शामिल किये जा सकते है| डाटा ट्रांसमिशन इन पैकेटो के द्वारा किया जाता है| एक ही सन्देश(message) के विभिन्न पैकेटो को अलग अलग रास्तो पर भेजा जाता है और इन पैकेटो को मंजिल (destination) पर एकत्रित (collect) किया जाता है| ट्रांसमिशन की कॉस्ट (transmission cost) पैकेट पर निर्भर करती है| यह पद्धति (method) इंटरनेट पर डाटा को प्रसारित (data transmission) में उपयोग की जाती है|

सर्किट, मैसेज और पैकेट स्विचिंग में अंतर (Difference between Circuit, Message and Packet Switching)



पहलू (Aspect)सर्किट स्विचिंग (Circuit Switching)मैसेज  स्विचिंग (Message Switching)पैकेट  स्विचिंग (Packet Switching)
समर्पित संचार पथ और चैनल
(Dedicated Communication path or channel)
आवश्यकआवश्यक नहींआवश्यक नहीं
एक ही समय में प्राप्तकर्ता (receiver) और प्रेषक(sender) की उपलब्धता
(Availability of Recipients and sender at the same time)
आवश्यकआवश्यक नहींआवश्यक नहीं
सन्देश (message) प्रेषित (transmit) करने के लिए स्रोत पते (source address) और गंतव्य पते (destination address) का उपयोग
(use of source address & destination address to transmit a message)
आवश्यक नहींआवश्यकआवश्यक
संचरण (transmission) के लिए प्रत्येक नोड पर पूर्ण सन्देश (full message) आवश्यक है
(Full message required at each node for transmission)
हाँहाँ नहीं
पैकेट में डाटा का टूटना या विभाजन
(Breaking or division of data into packets)
नहींनहींहाँ

सिलेबस के अनुसार नोट्स
DCA, PGDCA, O Level, ADCA, RSCIT, Data Entry Operator
यहाँ क्लिक करें


Rs. 50 जीतने का मौका
सब्सक्राइब करें और जीतें
यहाँ क्लिक करें